बैलेट से मतदान होता तो सपा और ज्यादा वोटों से जीतती : अखिलेश

If ballot voting was done, people would have expressed lot more anger : Akhilesh yadav

लखनऊ। उपचुनावों मेें जीत से उत्साहित समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि मतदान ईवीएम की जगह बैलेट से होता तो पार्टी कई ज्यादा वोटों से जीतती।

यादव ने गुरुवार को कहा कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में यदि ईवीएम खराब नहीं हुए होते तो सपा को कही ज्यादा वोट मिलते। उन्होंने कहा कि बैलेट से वोट पड़ते तो सपा और ज्यादा वोटों से जीतती। उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि बैलेट में वोट डालने पर आवाज आती है कि हो गया वोट लेकिन ईवीएम से पता ही नहीं चल पाता है।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर में ईवीएम पहले से खराब थे। गोरखपुर महोत्सव के बगल में ही उनकी मरम्मत कराई जा रही थी। कई ईवीएम में पहले से वोट डले थे। ये सब बाते चुनाव आयोग को देखनी है। ईवीएम क्यों खराब हुए और उनका ऐन मौके पर मरम्मत कराई गई। उन्होंने कहा कि कई बूथों पर लोग ईवीएम ठीक होने का इन्तजार करते रहे जिससे सपा को वोट कम मिल पाए। यदि सब ठीक रहता तो जीत का अन्तर कई ज्यादा होता।

वही सफल होता है जो पुरानी बातों को भूल जाता

अखिलेश यादव ने किसी पार्टी का नाम लिये बगैर कहा कि वही सफल होता जो पुरानी बातों को भूल जाता है। यादव ने लोकसभा की दो सीटों पर हुए उपचुनाव में पार्टी उम्मीदवारों की जीत के बाद कहा कि सफलता के लिए पुरानी बातों को भूल जाना ही बेहतर होता है। उन्होंने कहा कि सपा सभी का सम्मान करती है। जनता के फैसले से पार्टी का सम्मान बढ़ा है।

उन्होने उपचुनाव में जीत के लिए कार्यकर्ताओं, जनता तथा सपा नेताओं को कड़ी मेहनत के लिये बधाई दी। उन्होंने कहा कि उपचुनावों में जीत से जनता में बड़ा राजनीतिक संंदेश जाएगा। जनता केे फैसले से नेताओं की भाषा बदलेगी। दोनों सीटों पर युवा जीते है। नौजवान सांसद जनता की सेवा में कोई कोर कसर नही छोड़ेंगे।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा ने अपने कार्यकाल में विकास का उदाहरण पेश किया। आगरा-लखनऊ एक्सपेस वे का निर्माण कराया। लखनऊ मेट्रो का निर्माण कराया। गाजियाबाद में छह लेन की एलिवेटेड सड़क का निर्माण कराया। एक्सप्रेस वे से किसान अपना उत्पादन देश की बड़ी मंडियोें में पहुंचा पाएंगे, जिससे उन्हें अपनी लागत का भुगतान हो पाएगा। उन्होने कहा 1090 तथा डायल 100 जैसी सुविधाएं महिलाओं की सुरक्षा के लिए चलायीं थी।

लाख टके का सवाल, क्या 2019 तक जारी रहेगा BSP-SP गठबंधन
उपचुनाव नतीजाेें केे बाद योगी आदित्यनाथ का गोंडा दौरा निरस्त

यादव ने कहा कि सपा के लोग मीटिंग करने में कम गांवों में जाने में ज्यादा विश्वास रखते है। साइकिल आम ग्रामीणों की सवारी है और आराम से गांवों तक पहुच जाती है। उन्होने कहा कि वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव जीतने के बाद पार्टी समाजवादी पेंशन योजना फिर से लागू करेगी । पेंशन 2000 रूपए प्रतिमाह कर दी जाएगी।

पुरानी बातों को भूल जाने तथा सपा के पूर्व नेता अमर सिंह के बारे में पूछे जाने पर यादव ने कहा कि वे मेरे अंकल है। अंकल मुझे अच्छी तरह जानते है और मैं भी अंकल जी को अच्छी तरह जानता हूं।

गौरतलब है कि प्रदेश के गोरखपुर तथा फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सपा ने दोनों पर जीत हासिल की। इस सीटों पर मतदान 11 मार्च को हुआ था तथा मतों की गणना कल हुई थी।