सीनेट महाभियोग सुनवाई : डोनाल्ड ट्रम्प पर लगे सभी आरोप खारिज

वाशिंगटन। अमरीकी सीनेट ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को महाभियोग की सुनवाई के दौरान सभी आरोपों से मुक्त कर दिया है। सीनेट ने बुधवार को अपनी सुनवाई में ट्रम्प को कांग्रेस की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने का दोषी नहीं पाया है।

सीनेट ने इस ऐतिहासिक मतदान में अमरीका के 45वें राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को पद से नहीं हटाने का निर्णय लिया है।

रिपब्लिकन पार्टी के बहुमत वाली सीनेट ने ट्रम्प पर लगे सत्ता के दुरुपयोग के आरोप को 52-48 के अंतर से खारिज कर दिया जबकि उन पर कांग्रेस के कार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप को उच्च सदन ने 53-47 से खारिज कर दिया।

डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों ने ट्रम्प पर आरोप लगाया था कि वह आगामी राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर अपने प्रतिद्वंदी उम्मीदवार को बदनाम करने के लिए यूक्रेन पर दबाव बना रहे हैं।

ट्रम्प पर यूक्रेन के साथ संबंधों में अपनी शक्तियों का दुरुपयोग करने के आरोप लगे थे। यदि ट्रम्प पर यह आरोप सिद्ध हो जाते तो उन्हें उपराष्ट्रपति माइक पेंस को अपना कार्यभार सौंपना पड़ता। ट्रम्प ने अपने ऊपर लगे इन आरोपों को हमेशा से नकारा है।

गौरतलब है कि डेमोक्रेटिक पार्टी के नेतृत्व वाले कांग्रेस के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स (प्रतिनिधि सभा) ने 18 दिसंबर को ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग की कार्रवाई को मंजूरी प्रदान की थी।

अमरीकी सीनेट सदस्य पैट्रिक लीह ने ट्रम्प के दोष मुक्त होने को अमरीकी लोकतंत्र के लिए काला दिन करार दिया है।

रिपब्लिकन पार्टी के सभी सीनेट सदस्यों ने ट्रम्प को दाेनों आरोपों से मुक्त कराने के लिए मतदान किया जबकि मिट रोमनी ने एक आरोप में ट्रम्प के खिलाफ मतदान किया।