धन-बल के दुरुपयोग करने वाले कुछ नामी-गिरामी ठेकेदारों पर आयकर विभाग का छापा

कुछ नामी-गिरामी ठेकेदारों पर आयकर विभाग का छापा
कुछ नामी-गिरामी ठेकेदारों पर आयकर विभाग का छापा

बेंगलुरु । कर्नाटक विधानसभा की 224 सीटों के लिए 12 मई को होने वाले चुनाव में धन-बल के दुरुपयोग पर नियंत्रण रखने के मकसद से आयकर विभाग ने कुछ नामी-गिरामी ठेकेदारों के यहां छापे मारे हैं।

मुख्यमंत्री सिद्दारामैया और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जी. परमेश्वर ने आरोप लगाया है कि ये छापे कांग्रेस से सहानुभूति रखने वाले कुछ ठेकेदारों के यहां डाले गए हैं। उन्होंने दावा किया कि लोक निर्माण मंत्री एच सी महादेवप्पा के मैसूर स्थित आवास पर भी छापे डाले गए। डॉ महादेवप्पा ने स्वयं और आयकर विभाग ने एक बयान ने खंडन किया है कि विभाग ने मंत्रियों के घर पर छापा डाला है। विभाग ने कहा है छापे केवल कुछ ठेकेदारों के परिसरों में डाले गए हैं। डॉ परमेश्वर ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि पिछले छह माह के दौरान आयकर विभाग ने कई कांग्रेस नेताओं और पार्टी से सहानुभूति रखने वालों के यहां ही छापे मारे हैं।

बयान में कहा गया है,“ इससे यह साफ होता है कि केन्द्र सरकार कांग्रेस नेताओं, पार्टी से सहानुभूति और समर्थकों को विधानसभा चुनाव से पहले ‘फंसाना’ चाहती है जिससे कि कांग्रेस को समर्थन में रुकावट आये।” उन्होंने कहा कि ये छापे यह दर्शाते हैं कि केन्द्र भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार कैसे आयकर विभाग, सतर्कता निदेशालय और केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जैसे एजेंसियों का दुरुपयाेग करती आ रही है और यह निरंतर जारी है। उन्होंने कहा,“ मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।”