IND V AUS: आस्ट्रेलिया ने दिया भारत को 289 का लक्ष्य

IND V AUS: Australia gives India 289 target
IND V AUS: Australia gives India 289 target

सिडनी । खराब शुरूआत से उबरने के बाद उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श और पीटर हैंड्सकोंब के अर्धशतकों की मदद से आस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ यहां सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर सीरीज़ के पहले वनडे में शनिवार को जीत के लिये 289 रन का लक्ष्य रख दिया।

मेज़बान आस्ट्रेलिया ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और खराब शुरूआत के बाद उसने निर्धारित 50 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 288 रन बनाये। ख्वाजा ने 59 रन, शॉन ने 54 रन और हैंड्सकोंब ने 73 रन की अर्धशतकीय पारियां खेलीं। इसके अलावा मार्कस स्टोइनिस ने नाबाद 47 रन का योगदान दिया।

भारत से पहली बार अपनी ज़मीन पर टेस्ट सीरीज़ गंवाने वाली आस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाज़ी का फैसला तो किया लेकिन उसकी शुरूआत खराब रही और कप्तान आरोन फिंच को तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने मात्र छह रन के निजी स्कोर पर बोल्ड कर भारत को पहला विकेट दिला दिया।

फिंच ने एलेक्स कारी के साथ ओपनिंग विकेट के लिये केवल आठ रन ही जोड़े। बायें हाथ के बल्लेबाज़ उस्मान ख्वाजा फिर मैदान पर आये जिन्होंने दूसरे विकेट के लिये कारी के साथ 33 रन जोड़े। कारी को रोहित शर्मा ने स्पिनर कुलदीप यादव के हाथों कैच कराकर 41 रन पर आस्ट्रेलिया के दो अहम विकेट निकाल लिये। कारी ने 31 गेंदों में पांच चौके लगाकर 24 रन बनाये।

ख्वाजा ने फिर शॉन मार्श के साथ तीसरे विकेट के लिये महत्वपूर्ण 92 रन की साझेदारी करते हुये आस्ट्रेलिया को 100 के पार पहुंचाया और स्थिति भी संभाली। ख्वाजा ने अपने वनडे करियर का पांचवां शतक लगाया लेकिन लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ने उन्हें पगबाधा कर इस साझेदारी को तोड़ा। ख्वाजा ने 81 गेंदों की पारी में छह चौके लगाकर 59 रन बनाये।

हैंड्सकोंब ने फिर शॉन के साथ पारी को आगे बढ़ाया और चौथे विकेट के लिये 35 गेंदों में तेज़ी से 53 रन जोड़े। चाइनामैन कुलदीप की लूज़ गेंद पर शॉन बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में मोहम्मद शमी को कैच दे बैठे और 54 रन बनाकर आउट हुये। उन्होंने 70 गेंदों की पारी में चार चाैके लगाये।

हैंड्सकोंब और स्टोइनिस ने फिर 47वें ओवर तक आस्ट्रेलिया को 254 के संतोषजनक स्कोर तक पहुंचाया। दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 68 रन की दूसरी बड़ी साझेदारी की। भारतीय गेंदबाजों के लिये सिरदर्द बन चुके हैंड्सकोंब 73 रन पर भुवनेश्वर का शिकार बने। उन्होंने 61 गेंदों में छह चौके और दो छक्के लगाये और 47वें ओवर में भुवी की गेंद पर धवन ने उन्हें एक्सट्रा कवर बाउंड्री के पास लपक पांचवां विकेट निकाल मेहमान टीम को राहत दी।

हालांकि स्टोइनिस आखिरी तक टिके रहे और कई बेहतरीन बड़े शॉट्स खेले। उन्होंने 43 गेंदों में दो चौके और दो छक्के लगाये और नाबाद 47 रन की पारी खेली। स्टोइनिस ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ छठे विकेट के लिये अविजित 34 रन जोड़े। मैक्सवेल ने नाबाद 11 रन बनाये।

तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर आखिरी ओवर में महंगे साबित हुये और 18 रन लुटा बैठे। भुवनेश्वर और कुलदीप ने 10-10 ओवर की गेंदबाजी में 66 और क्रमश: 54 रन देकर दो दो विकेट लिये जबकि जडेजा को 48 रन पर एक विकेट मिला। भुवी ने मैच के 19वें ओवर में अपने 100 विकेट की उपलब्धि भी पूरी कर ली।