2nd ODI : श्रेयस अय्यर, ईशान किशन के आगे दक्षिण अफ्रीका पस्त

रांची। भारत ने श्रेयस अय्यर (113 नाबाद) के शतक और ईशान किशन (93) के अर्द्धशतक की बदौलत दक्षिण अफ्रीका को दूसरे एकदिवसीय मैच में रविवार को सात विकेट से हराकर तीन मैचों की शृंखला 1-1 से बराबर की।

दक्षिण अफ्रीका ने भारत के सामने 279 रन का लक्ष्य रखा था, जिसे भारत ने 45.5 ओवर में हासिल कर लिया। भारत को इस लक्ष्य तक पहुंचाने के लिए अय्यर और किशन ने तीसरे विकेट के लिए 161 रन की मैच जिताऊ साझेदारी की।

किशन ने इस साझेदारी में आक्रामक भूमिका निभाते हुए 84 गेंदों पर चार चौकों और सात छक्कों की बदौलत 93 रन बनाये। किशन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने पहले शतक से चूक गये, लेकिन अय्यर ने इस प्रारूप में अपना दूसरा शतक जड़ते हुए 111 गेंदों पर 15 चौकों के साथ नाबाद 113 रन बनाए और चौका लगाकर भारत को जीत दिलाई।

दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए क्विंटन डी कॉक का विकेट जल्दी गंवा दिया, जिन्हें मोहम्मद सिराज ने पांच रन पर बोल्ड किया। यानेमन मलान (25) ने धीमी शुरुआत के बाद कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन एकदिवसीय क्रिकेट में पदार्पण कर रहे शाहबाज़ अहमद की गेंद पर पगबाधा होकर पवेलियन लौट गए।

प्रोटियाज के दो विकेट 40 रन पर गिरने के बाद रीज़ा हेंड्रिक्स और एडेन मार्करम ने तीसरे विकेट के लिये 129 रन की साझेदारी की। हेंड्रिक्स ने 76 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्का लगाकर 74 रन बनाये जबकि मार्करम ने 89 गेंदों पर सात चौकों और एक छक्के के साथ 79 रन बनाए।

दक्षिण अफ्रीका 30 ओवर में 157 रन बनाकर बड़े स्कोर की तरफ अग्रसर थी, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने रनगति पर लगाम कसी। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को 42वें से 47वें ओवर तक एक भी चौका नहीं मारने दिया। हेनरिक क्लासेन (30) और वेन पार्नेल (16) के आउट होने के बाद प्रोटियाज को अच्छे स्कोर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी मिलर पर थी।

मिलर ने शार्दुल ठाकुर के 49वें ओवर में दो चौके जड़े लेकिन सिराज ने 50वें ओवर में केशव महाराज को आउट करते हुए सिर्फ तीन रन दिए। दक्षिण अफ्रीका ने आखिरी आठ ओवरों में केवल 41 रन जोड़कर 50 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 278 रन बनाए।

भारतीय गेंदबाजी की अगुवाई करते हुए सिराज ने 10 ओवर में सिर्फ 38 रन देकर तीन विकेट लिए। इसके अलावा शार्दुल, शाहबाज़, वाशिंगटन सुंदर और कुलदीप यादव को एक-एक विकेट हासिल हुआ।

भारत के लिए लक्ष्य का पीछा करने उतरे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और शुभमन गिल अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सके। धवन ने पार्नेल की गेंद पर बोल्ड होने से पहले 13(20) रन बनाए, जबकि गिल ने 26 गेंदों पर पांच चौके लगाते हुए 28 रन की पारी खेली।

भारत ने 48 रन पर पहले दो विकेट गंवा दिए, लेकिन अय्यर और किशन ने मैच को दक्षिण अफ्रीका से दूर ले जाते हुए तीसरे विकेट के लिए 161 रन की साझेदारी करके टीम को 209 रन के स्कोर तक पहुंचाया। किशन ने पारी की धीमी शुरुआत की लेकिन टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचने के बाद उन्होंने रफ्तार बदली।

झारखंड से आने वाले किशन ने अपने घरेलू मैदान पर खेलते हुए अपने एकदिवसीय करियर का तीसरा अर्द्धशतक जड़ा। अपने पहले अंतरराष्ट्रीय शतक से केवल सात रन की दूर किशन ने ब्योर्न फोर्टिन की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया, लेकिन वह डीप मिड-विकेट पर खड़े हेंड्रिक्स को पार नहीं कर सके।

किशन के आउट होने के बाद अय्यर ने एकदिवसीय क्रिकेट में अपना दूसरा शतक पूरा किया। यह (113 नाबाद) खेल के इस प्रारूप में अय्यर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी है। पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए संजू सैमसन ने 36 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के के साथ नाबाद 30 रन बनाये और अय्यर के साथ 73 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी करके टीम को जीत तक पहुंचाया।

भारत ने तीन मैचों की एकदिवसीय शृंखला में 1-1 से बराबरी कर ली है। सीरीज का आखिरी मैच मंगलवार को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेला जाएगा।

ईशान किशन ने की छक्कों की बरसात

झारखंड के ईशान किशन ने रविवार को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए एकदिवसीय मैच में 93 रन की विस्फोटक पारी खेलकर दर्शकों का दिल जीत लिया। किशन ने अपनी 93 रनों की पारी में चार चौके और सात गगनचुंबी छक्के लगाए। यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनका उच्चतम स्कोर है।

किशन हालांकि एकदिवसीय क्रिकेट में अपना पहला शतक जड़ने से चूक गये और ब्योर्न फोर्टिन की गेंद पर हेंड्रिक्स को कैच दे बैठे। शतक से चूक जाने पर किशन काफी निराश हुए और आउट होने के बाद कुछ क्षणों तक विकेट पर रुके रहे।

महेंद्र सिंह धोनी के बाद किशन अपने घरेलू मैदान जेएससीए क्रिकेट स्टेडियम रांची में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले झारखंड के दूसरे खिलाड़ी हैं। किशन का यह आठवां एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच है जबकि रांची में वह पहली बार खेले हैं।

आज से पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किशन का उच्चतम स्कोर 59 रन था जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 2021 में कोलंबो में अपने पदार्पण मैच में बनाया था। किशन ने अपना दूसरा अर्धशतक जिम्बाब्वे के खिलाफ हरारे में 2022 में बनाया था।

साथ ही, आज से पहले अंतरराष्ट्रीय मैचों में किशन का सबसे बड़ा स्कोर 89 रन था जो उन्होंने लखनऊ में श्रीलंका के विरुद्ध खेले गए टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में बनाया था। किशन झारखंड रणजी टीम के कप्तान रहने के अलावा अंडर-19 भारतीय क्रिकेट टीम के भी कप्तान रह चुके हैं।