भारत-रवांडा के बीच आठ समझौते, शीघ्र खुलेगा भारतीय उच्चायोग

India, Rwanda, eight agreements will open soon, High Commission of India
India, Rwanda, eight agreements will open soon, High Commission of India

किगाली । भारत और रवांडा के बीच अहम समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अफ्रीकी देश में शीघ्र ही भारतीय उच्चायोग खोले जाने की घोषणा की है।

मोदी तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा के पहले पड़ाव पर सोमवार शाम यहां पहुंचे और इसके साथ ही रवांडा की यात्रा करने वाले वह पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गये। दोनों देशों ने चमड़ा एवं इससे संबद्ध क्षेत्रों और कृषि अनुसंधान के क्षेत्र में समझौतों पर हस्ताक्षर किये हैं।

दोनों देशों के बीच शिष्ठमंडल स्तर की वार्ता के दौरान भारत ने किगाली में विशेष आर्थिक क्षेत्र और तीन कृषि परियोजनाओं के लिए 20 करोड़ डॉलर ऋण देने की पेशकाश की। भारत कई औद्योगिक पार्क के विकास और रवांडा में किगाली विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) के लिये 10 करोड़ डॉलर तथा कृषि के लिये 10 करोड़ डॉलर को रवांडा को कर्ज देगा।

मोदी ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए इस किगाली में शीघ्र भारतीय उच्चायोग खोले जाने की घोषण की। उन्होंने कहा कि भारत शीघ्र ही रवांडा में अपना उच्चायोग खोलेगा जिससे न केवल दोनाें देशों के बीच संवाद का रास्ता प्रशस्त होगा बल्कि दोनों देशों की सरकारों को पासपोर्ट और वीजा से संबंधित काम काज करने में भी सुविधा होगी।

रवांडा के आर्थिक विकास की यात्रा में उसके साथ कंधा से कंधा मिलाकर खड़ा रहना भारत के लिए गौरव की बात है। इस देश की विकास यात्रा में भारत की मदद कायम रहेगी। रवांडा के राष्ट्रपति रिपीट राष्ट्रपति पॉल कामगे ने कहा कि श्री मोदी की यात्रा दोनों दशों के बीच संबंधों और सहयोग में मील का पत्थर साबित हुयी है।

मोदी ने बाद में भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात की। उन्होंने बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा,“ भारतीय समुदाय विश्वभर में अपनी पहचान बना रहा है। वे हमारे राष्ट्रदूत ,हमारे राजदूत हैं। भारतीय समुदाय लंबे समय से यहां उच्चायोग खोलने की मांग कर रहा था। यह मांग जल्द पूरी होगी।”

मोदी ‘जिनोसाइड मेमोरियल’ का आज दौरा करेंगे और प्रति व्यक्ति एक गाय देने के राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम ‘गिरिंका’में शिरकत करेंगे। वहां वह श्री कागमे को 200 गाय दान करेंगे। राष्ट्रपति ने यह कार्यक्रम शुरू किया है। श्री मोदी इसके बाद युगांडा जायेंगे और बुधवार को वह 10 ब्रिक्स सम्मलेन में शामिल होने के लिए दक्षिण अफ्रीका के सबसे बड़े शहर जोहान्सबर्ग पहुंचेंगे।

रवांडा के राष्ट्रपति पाॅल कागमे अफ्रीकी यूनियन के अध्यक्ष हैं। रवांडा अफ्रीका की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। संसाधान संपन्न इस महाद्वीप में भारत की पहुंच कायम करने के इरादे से मोदी की यात्रा अहम है।

इससे पहले किगाली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर मोदी के विमान के उतरते ही कागमे ने उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, “यह एक ऐतिहासिक यात्रा है जिसकी शुरुआत विशेष रही।”