आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर वन बनने के लिये उतरेगा भारत

India to enter number one in ICC ODI rankings
India to enter number one in ICC ODI rankings

नॉटिंघम । विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय क्रिकेट टीम गुरूवार को इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज़ के पहले मुकाबले में विजयी शुरूआत के लिये उतरेगी तो उसकी निगाहें इस प्रारूप में फिर से नंबर वन बनने पर भी लगी होंगी।

भारतीय टीम को इंग्लैंड के हाथों अपना नंबर वन वनडे स्थान मई में गंवाना पड़ा था लेकिन यदि वह इस सीरीज़ में 3-0 से क्लीन स्वीप कर लेती है तो वह फिर से नंबर वन वनडे टीम बन जाएगी। हालांकि एक भी मैच हारने पर मेजबान टीम अपने शीर्ष स्थान पर कायम रहेगी।

स्टार बल्लेबाज़ विराट की अगुवाई वाली टीम इंडिया के लिये केवल नंबर वन वनडे स्थान हासिल करना ही अहम नहीं होगा बल्कि इंग्लैंड की स्विंग पिचों पर उसकी तैयारी भी परखने का यह अच्छा मौका है जहां एक वर्ष बाद आईसीसी वनडे विश्वकप खेला जाना है। भारत ने ट्वंटी 20 सीरीज़ को 2-1 से और आयरलैंड के खिलाफ 2-0 से सीरीज़ जीतकर दौरे की अच्छी शुरूआत की है लेकिन असल चुनौती उसकी अब मानी जा रही है।

भारत ने ट्वंटी 20 सीरीज़ में एक मैच हारने के बाद वापसी की और ब्रिस्टल में जीत से उसने सीरीज़ कब्जाई तो साथ ही वनडे सीरीज़ से पूर्व उसका आत्मविश्वास भी मजबूत हुआ है। पिछली सीरीज़ में कप्तान विराट ने कई संयोजन प्रयोग किये थे तो अब वनडे सीरीज़ में भी उनके पास मध्यक्रम के लिये उचित संयोजन तलाशने का मौका होगा जिसे लेकर टीम मैनेजमेंट और कप्तान दोनों ही फिलहाल आश्वस्त नहीं हैं।

विराट आमतौर पर नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने उतरते हैं, लेकिन नंबर चार पर स्थिति स्थिर नहीं दिखती है। संभव है कि वह आगामी सीरीज़ में लोकेश राहुल को नंबर तीन पर मौका दें। इससे पहले ट्वंटी 20 सीरीज़ के पहले मैच में भी राहुल को तीसरे नंबर पर मौका दिया गया था जब उन्होंने नाबाद 101 रन की धुआंधार पारी खेली जबकि विराट खुद चौथे नंबर पर उतरे थे। कप्तान हालांकि अपने चौथे स्थान पर भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं और उन्होंने इस पायदान पर नाबाद 20, 47 और 43 रन की पारियां खेलीं।

ओपनिंग क्रम में रोहित शर्मा और शिखर धवन की विशेषज्ञ जोड़ी लगभग स्थिर है। दूसरी ओर अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज़ महेंद्र सिंह धोनी भी अपने छठे स्थान पर हमेशा उपयोगी साबित होते हैं, जबकि ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या भी निचले क्रम पर अहम खिलाड़ी हैं जिनसे विराट सबसे अधिक प्रभावित दिखते हैं।

ट्वंटी 20 सीरीज़ में ओपनर रोहित की ब्रिस्टल में नाबाद 100 रन की पारी लाजवाब थी लेकिन उनके जोड़ीदार शिखर धवन फिलहाल फार्म में नहीं दिख रहे हैं जिन्होंने तीन मैचों में 5,10,4 रन की पारियां खेलीं। उम्मीद की जा सकती है कि अनुभवी बल्लेबाज़ वनडे सीरीज़ में उम्मीद के मुताबिक खेलेंगे।

गेंदबाज़ों को देखें तो मध्यम तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह उंगली की चोट के कारण वनडे सीरीज़ से भी बाहर हैं जिनकी जगह शार्दुल ठाकुर को टीम में जगह दी गयी है। निचले क्रम पर उपयोगी पारी खेलने के साथ गेंदबाज़ी में भी पांड्या से उम्मीद रहेगी जिन्होंने निर्णायक ट्वंटी 20 में 38 रन पर सर्वाधिक चार विकेट लिये थे।