हम बदला लेने नहीं आए हैं : विराट कोहली

आकलैंड। भारत को गत वर्ष इंग्लैंड में एकदिवसीय विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों करोड़ों सपने तोड़ने वाली हार का सामना करना पड़ा था लेकिन न्यूजीलैंड से तीनों फॉर्मेट में खेलने आए भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि यह बदला लेने वाली सीरीज नहीं है।

भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच मैचों की टी-20 सीरीज शुक्रवार से शुरू हो रही है। इसा मैच की पूर्वसंध्या पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में विराट से बदला लेने के बारे में पोछे जाने पर भारतीय कप्तान ने कहा कि ईमानदारी से कहूं कि यदि आप बदला लेने के बारे में सोचते भी हैं तो ये लोग इतने अच्छे हैं कि आप उस सोच में जा भी नहीं पाते। भारत को विश्व कप सेमीफाइनल में कीवी टीम के हाथों 18 रन से हार का सामना करना पड़ा था और यह हार आज भी भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को कचोटती है।

इस बारे में पूछने पर विराट ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। ये लोग बहुत अच्छे हैं और हम इनसे इतने घुल-मिल गए हैं कि हम इस बारे में सोच भी नहीं सकते। यह केवल मैदान पर प्रतिस्पर्धी होने की बात है। यह एक शानदार टीम है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के सही मापदंड पेश कराती है। वे खेल की हर गेंद के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ करना चाहते हैं और यह बात उनकी शारीरिक भाव भंगिमा से दिखाई देती है। वह एक स्तरीय टीम है और हम उनका काफी सम्मान करते हैं। मुझे लगता है कि वे भी हमारा सम्मान करते हैं।

विराट ने साथ ही कहा कि हमें ख़ुशी हुई थी जब वे फाइनल में पहुंचे थे। मुझे नहीं लगता कि यह दौरा किसी तरह का बदला लेने के लिए है। यह बात दो अच्छी टीमों के बीच अच्छी क्रिकेट खेलने को लेकर है। हमारे लिए न्यूजीलैंड को उसी के घर में हराना एक बड़ी चुनौती होगी और हम इसके लिए तैयार हैं।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कप्तानी को लेकर आलोचना झेल रहे विपक्षी कप्तान केन विलियम्सन का बचाव करते हुए कहा कि जब टीम संघर्ष करेगी तो सवाल खड़ें होंगे, लेकिन नेतृत्व हमेशा परिणामों से नहीं आंका जा सकता। कीवी टीम को हाल में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से हार का सामना करना पड़ा था जिससे तीनों फॉर्मेट के कप्तान विलियम्सन की कप्तानी पर सवाल उठाने लगे थे।

न्यूजीलैंड टीम के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकुलम ने भी सवाल उठाया था कि उनकी कुछ रणनीति काम नहीं कर रही है। न्यूजीलैंड को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 0-3 से और इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में 2-3 से हार का सामना करना पड़ा था।

मैकुलम ने कहा था कि विलियम्सन का धीरे-धीरे कप्तानी से प्यार खत्म हो रहा है और वह कम से कम टी-20 प्रारूप में कप्तानी छोड़ सकते हैं। यहां तक कि खुद कप्तान विलियम्सन भी चाहते हैं कि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड नया कप्तान खोज सकता है, जिसके लिए वह तैयार हैं।

विराट ने कहा है कि जब टीम को असफलता हाथ लगती है तो लोग कप्तान को दोष देने लगते हैं। उन्होंने कहा कि जब भी आपको झटका लगता है तो इस तरह की बातें पहले भी होती थीं, अब भी होती हैं। मेरा मानना है कि तीनों फॉर्मेट की कप्तानी करना एक बड़ी जिम्मेदारी है।

एक चीज जो मैंने की है कि मैं सिर्फ उस चीज पर फोकस करता हूं कि मैं टीम को आगे ले जाने के लिए क्या कर सकता हूं। कप्तानी को हमेशा परिणामों से नहीं आंका जा सकता है। यह उस बारे में है कि आप टीम को एक साथ कैसे आगे ले जाते हैं। आपकी टीम के खिलाड़ी किस तरह से काम कर रहे हैं और मेरा मानना है कि विलियम्सन ने ये काम बखूबी निभाया है।