काम ना आया मिलर का शतक, रोमांचक मुकाबले में भारत की जीत

गुवाहाटी। भारत ने डेविड मिलर (106 नाबाद) के विस्फोटक शतक के बावजूद दक्षिण अफ्रीका को दूसरे टी20 मैच में रविवार को 16 रन से मात देकर तीन मैचों की शृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 20 ओवर में 238 रन का लक्ष्य दिया, जिसके जवाब में प्रोटियाज 221 रन ही बना सके।

दक्षिण अफ्रीका को इस विशाल लक्ष्य तक पहुंचाने का प्रयास करते हुए मिलर ने 47 गेंदों पर आठ चौकों और सात छक्कों की बदौलत 106 रन की नाबाद पारी खेली। क्विंटन डी कॉक ने उनका साथ देते हुए 48 गेंदों पर तीन चौकों और चार छक्कों के साथ नाबाद 69 रन बनाए। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 174 रन की साझेदारी की लेकिन प्रोटियाज को जीत तक नहीं पहुंचा सके।

इससे पहले, दक्षिण अफ्रीका के सामने 237 रन का स्कोर खड़ा करने के लिए सूर्यकुमार यादव ने टी20 अंतरराष्ट्रीय में लगातार तीसरा अर्द्धशतक जड़ते हुए 22 गेंदों पर 61 रन बनाए। लोकेश राहुल ने 28 गेंदों पर पांच चौकों और चार छक्कों के साथ 57 रन की पारी खेली, जबकि विराट कोहली 28 गेंदों पर सात चौकों और एक छक्के के साथ 49 रन बनाकर नाबाद रहे।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान रोहित शर्मा ने राहुल के साथ मिलकर भारत को शानदार शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 59 गेंदों में 96 रन की साझेदारी की। सलामी बल्लेबाज पहले दो ओवरों में समय लेने के बाद तीसरे ओवर से हमलावर हुए और भारत ने पावरप्ले में 57 रन जोड़े।

रोहित-राहुल की जोड़ी ने टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे ज्यादा (15) अर्द्धशतकीय साझेदारियां की हैं। राहुल ने 28 गेंदों पर पांच चौकों और चार छक्कों की बदौलत 57 रन बनाये जबकि रोहित ने 37 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाते हुए 43 रन की पारी खेली। यह जोड़ी मैच को प्रोटियाज से दूर ले जा रही थी लेकिन केशव महाराज ने दोनों बल्लेबाजों को आउट किया।

दक्षिण अफ्रीका ने पहले दो लिए ही थे कि सूर्यकुमार और विराट की जोड़ी ने ताबड़तोड़ अंदाज में रन बनाना शुरू कर दिये। दोनों के बीच 42 गेंदों पर 102 रन की विस्फोटक साझेदारी हुई। सूर्यकुमार ने 22 गेंदों पर पांच चौकों और पांच छक्कों के साथ 61 रन की अविश्वसनीय पारी खेली और टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे कम गेंदों (573) पर 1000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बने। कोहली ने 28 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाकर नाबाद 49 रन बनाए और वह टी20 क्रिकेट में 11,000 रनों तक पहुंचने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने।

सूर्यकुमार 19वें ओवर की पहली गेंद पर रनआउट हो गए, जिसके बाद क्रीज़ पर आए दिनेश कार्तिक ने एक चौके और दो छक्कों के साथ नाबाद 17(7) रन बनाकर भारत को 20 ओवर में 237 रन तक पहुंचाया। यह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे बड़ा स्कोर है।

दक्षिण अफ्रीका लक्ष्य का पीछा करते हुए शुरू से ही दबाव में रही। कप्तान टेम्बा बावुमा पहला ओवर मेडन खेलने के बाद दूसरे ओवर में शून्य रन पर पवेलियन लौट गए, जबकि राइली रूसो शृंखला में दूसरी बार शून्य रन पर आउट हुए।

दक्षिण अफ्रीका के दो विकेट सिर्फ एक रन पर गिरने के बाद एडेन मार्करम ने क्विंटन डी कॉक के साथ तीसरे विकेट के लिए 46 रन की साझेदारी की। मार्करम ने रनगति बढ़ाने के प्रयास में आउट होने से पहले 19 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के के साथ 33 रन बनाए। प्रोटियाज ने पहले 10 ओवरों में केवल 70 रन बनाए थे और उसे 60 गेंदों पर 168 रन की आवश्यकता थी।

विकेट पर मौजूद डेविड मिलर और डीकॉक ने दक्षिण अफ्रीका की गाड़ी को पटरी पर लाते हुए अगले छह ओवर में 86 रन जोड़े। कप्तान रोहित ने रनों पर लगाम लगाने के लिए 17वां ओवर दीपक चाहर को सौंपा जिन्होंने छह गेंदों पर मात्र आठ रन दिए। दक्षिण अफ्रीका को आखिरी तीन ओवरों में 74 रन चाहिए थे मगर 19वें और 20वें ओवर में कुल 46 रन बटोरने के बावजूद भी वह 20 ओवर में 221/3 के स्कोर तक ही पहुंच सकी।

भारत की ओर से अर्शदीप सिंह ने चार ओवर में दो विकेट लिए लेकिन 15.50 की दर से 62 रन भी दिए। अक्षर पटेल ने चार ओवर में 53 रन देकर एक विकेट लिया। दीपक चाहर ने चार ओवर में एक मेडन के साथ 24 रन दिए, हालांकि उन्हें कोई विकेट हासिल नहीं हुआ।