सेंचुरियन टी-20 : सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा भारत

India vs South Africa: India Target Series-clincher, SA Look to Survive
India vs South Africa: India Target Series-clincher, SA Look to Survive

सेंचुरियन। विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम बुधवार को तीन मैचों की टी-20 सीरीज पर कब्जा जमाने के इरादे से सेंचुरियन के सुपर स्पोर्ट पार्क में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टी-20 मैच खेलेगी। भारत ने 18 फरवरी को जोहानसबर्ग में खेले गए सीरीज के पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 28 रनों से हराया था।

उस जीत के बाद भारतीय टीम ने सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल की है। अगर वह दूसरा मैच भी जीत जाती है, तो वह इस सीरीज में अजेय बढ़त हासिल कर लेगी।

कोहली की टीम अच्छे फॉर्म में है। पिछले मैच में सबसे अधिक 72 रन बनाने वाले शिखर धवन ने रोहित शर्मा के साथ टीम को अच्छी शुरुआत दी थी। इसके अलावा, कप्तान कोहली और मनीष पांडे ने भी अच्छा प्रदर्शन किया।

भारत के बल्लेबाजों ने मजबूत भूमिका निभाई। ऐसे में दूसरे मैच में भी टीम अच्छा स्कोर खड़ा कर सकती है। जहां तक गेंदबाजों का सवाल है, तो भुवनेश्वर कुमार अकेले ही दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों पर भारी पड़े थे। उन्होंने एक ओवर में तीन विकेट लेने के साथ ही मैच का रुख पूरी तरह से मोड़ दिया था। इसके अलावा, रही सही कसर हार्दिक पांड्या, युजवेंद्र चहल और जयदेव उनादकट ने पूरी कर दी थी।

ऐसे में देखा जाए, तो दूसरे मैच के लिहाज से भारतीय टीम का पलड़ा भारी नजर आ रहा है।दूसरी ओर, पिछले मैच में मिली हार पर दक्षिण अफ्रीकी टीम के कप्तान ज्यां पॉल ड्यूमिनी ने निराशा जताई थी। उनके अनुसार शुरुआत में टीम के बल्लेबाज अच्छी साझेदारी नहीं कर पाए।

इस मैच में मेजबान के लिए रीजा हैंड्रिक्स ने सबसे अधिक 70 रन बनाए थे। इसके अलावा, कप्तान ड्यूमिनी, डेविड मिलर कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे। टीम के पास उनके अनुभवी खिलाड़ी अब्राहम डिविलियर्स भी नहीं हैं और उनकी अनुपस्थिति का प्रभाव दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन पर साफ नजर आया।

डिविलियर्स छठे वनडे मैच में चोटिल हो गए थे और इस कारण वह टी-20 सीरीज से बाहर हो गए हैं। ऐसे में देखा जाए, तो दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को अधिक मेहनत करनी होगी।

जहां तक गेंदबाजों का सवाल है, तो जूनियर डाला ने सबसे अधिक विकेट लिए थे। क्रिस मौरिस, डेन पेटरसन और तबरेज शम्सी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए। डाला ने इस मैच से टी-20 प्रारूप में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पदार्पण किया।

ड्यूमिनी ने इस बात को माना है कि मैच जीतने के लिए युवा खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं रहा जा सकता। ऐसे में दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी गेंदबाजों को भारतीय बल्लेबाजों के बल्ले से निकलने वाले रनों को रोकने के लिए नई रणनीति अपनानी होगी।

टीमें (सम्भावित) :

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शार्दूल ठाकुर।

दक्षिण अफ्रीका : ज्यां पॉल ड्यूमिनी (कप्तान), फरहान बेहरदीन, जूनियर डाला, रीजा हेंड्रिक्स, किस्टियन जोंकर, हेइनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, डेन पेटरसन, एरॉन फांगिसो, अंदिले फेहुलकवायो, तबरेज शम्सी, जोन-जोन सम्ट्स।