एशियाई युवा पैरा खेलों में भारत ने 12 स्वर्ण सहित कुल 41 पदक जीते

मनामा | भारतीय एथलीटों का यह साल शानदार रहा है। फिर वह चाहे 2020 टोक्यो ओलंपिक खेलों की बात हो या पैरालंपिक खेल। इस प्रदर्शन को दोहराते हुए देश के युवा पैरा एथलीटों ने बहरीन के रिफा शहर में समाप्त हुए एशियाई युवा पैरा खेलों 2021 में अपना परचम लहराया है।

एशियाई युवा पैरा खेलों में भारतीय टीम 12 स्वर्ण, 15 रजत और 14 कांस्य सहित कुल 41 पदक जीत कर बुधवार को स्वदेश लौटी है। उल्लेखनीय है कि भारतीय टीम ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा पदक एथलेटिक्स में जीते हैं। 22 खिलाड़ी पोडियम (शीर्ष तीन) तक पहुंचने में सफल रहे।

आठ खिलाड़ियों ने स्वर्ण, छह ने रजत और आठ ने कांस्य पदक जीते हैं। बैडमिंटन में भारत को 15 पदक मिले, जिसमें टोक्यो पैरालंपियन पलक कोहली, संजना कुमारी और हार्दिक मक्कड़ ने आपस में तीन मेडल साझा किए।

तैराकी में भारत के नाम तीन पदक रहे, जिसमें एक रजत और दो कांस्य पदक शामिल हैं। पावरलिफ्टिंग में भी भारतीय टीम एक पदक जीतने में कामयाब हुई। उल्लेखनीय है कि दो से छह दिसंबर के बीच खेले गए इस टूर्नामेंट में लगभग 30 देशों के 700 से ज्यादा एथलीटों ने भाग लिया।