भारतीय वायुसेना किसी भी चुनौती का सामना करने को तैयार : वीरेंद्र धनोवा

भारतीय वायुसेना किसी भी चुनौती का सामना करने को तैयार : वीरेंद्र धनोवा
भारतीय वायुसेना किसी भी चुनौती का सामना करने को तैयार : वीरेंद्र धनोवा

सहारनपुर । वायुसेना अध्यक्ष वीरेंद्र धनोवा ने दावा किया है कि भारतीय वायुसेना कौशल तकनीक के मामले में दक्ष और सक्षम है और किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

एयरचीफ मार्शल धनोवा सहारनपुर के सैनिक हवाई अड्डे सरसावा में दो दिवसीय दौरे पर आए थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना दुनिया की सर्वोत्तम वायु सेनाओं में एक है और विषम परिस्थितियों में भी दुश्मन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिये हर समय तैयार और चौकन्ना है।

परम विशिष्ट सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित और 1919 में कारगिल युद्ध में अपनी वीरता का परिचय दे चुके राष्ट्रपति से सेना मेडल प्राप्त दौरे के दूसरे दिन बुधवार शाम सैन्य अधिकारियों से भेंट के दौरान कहा कि सहारनपुर का सैनिक सरसावा हवाई अड्डा इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि इसकी सीमाएं जम्मू-कश्मीर से मिलती है। इसलिए यह हवाई अड्डा संवेदनशील श्रेणी में शामिल है।

उन्होने सरसावा स्टेशन के एयरकमोडोर संदीप चौधरी के साथ सरसावा एयर स्टेशन की सभी यूनिटों का दौरा किया और रक्षा तैयारियों की समीक्षा की। वायुसेनाध्यक्ष ने कहा कि वह स्टेशन की क्षमता और तैयारियों से संतुष्ट हैं। सरसावा के एयर कमोडोर चौधरी ने बताया कि धनोवा वायुसेनाध्यक्ष बनने के बाद दूसरी बार सरसावा एयरफोर्स स्टेशन पर आए।

समीक्षा बैठक में वायुसेनाध्यक्ष ने पाया कि सरसावा एयरफोर्स स्टेशन को लेकर खुफिया एलर्ट और वायुसेना चौकसी कर रही है। इसे देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सरसावा एयरबेस की खूबी यह है कि यहां अनेक प्रकार के सैनिक हेलीकाॅप्टर हैं, जिनका किसी भी चुनौती में सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया जा सकता है।