वायुसेना का मिराज 2000 विमान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित

भिंड/ग्वालियर। वायुसेना का लड़ाकू विमान मिराज-2000 आज तकनीकी खराबी के कारण दुर्घटनाग्रस्त होकर मध्यप्रदेश के भिंड जिले के ग्रामीण इलाके में खेत में गिर गया। विमान उड़ा रहा पायलट सुरक्षित है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि विमान का मलबा बवेड़ी गांव के खेत में फैला हुआ है और संबंधित इलाके को सील कर दिया गया है। वायुसेना का अमला भी वहां पर पहुंच गया है। विमान उड़ा रहे पायलट फ्लाइट लेफ्टिनेंट अभिलाष सुरक्षित हैं और विमान क्रेश होने के दौरान वे उससे कूदने में सफल रहे। वे भी खेत में मिले थे। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाकर वायुसेना के अधिकारियों को सौंप दिया।

खेत में विमान का मलबा कई हिस्सों में फैला हुआ है। वायुसेना ने ट्वीट के जरिए कहा कि सुबह प्रशिक्षण उड़ान के दौरान मिराज 2000 विमान तकनीकी खराबी के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे के वास्तविक कारण जानने के लिए वायुसेना ने कोर्ट ऑफ इंक्वारी के आदेश दे दिए हैं।

दूसरी ओर प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों का कहना है कि सुबह के वक्त आसमान में उड़ान भर रहे विमान से धुआं निकलता दिखा और वह अचानक नीचे आने लगा। इसी समय पैराशूट भी दिखा, जिसमें एक व्यक्ति लटका हुआ था।

बताया गया है कि जिस स्थान पर विमान गिरा, वहां पर बड़ा गड्ढा हो गया है। गांव वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और सूचना मिलने पर भिंड पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे। ग्वालियर से विमान ने सुबह वायुसेना के हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी और कुछ समय बाद हादसे की सूचना प्राप्त हुई।