भारतीय कंपनियों के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में होगी बढोतरी

भारतीय कंपनियों के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में होगी बढोतरी
भारतीय कंपनियों के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में होगी बढोतरी

नयी दिल्ली । भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के अनुसार स्थिर बाजार और स्थानीय अर्थव्यवस्था में भारतीय कंपनियों की बढ़ते योगदान के मद्देनजर भारतीय कंपनियों के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में बढोतरी होने का अनुमान है।

सीआईआई ने अंकटाड की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुये कहा है कि वर्ष 2017 में भारतीय कंपनियों ने विदेशों में 155 अरब डॉलर का निवेश किया। सीआईआई ने कहा कि भारतीय कंपनियों विदेशों में निवेश करने के दौरान स्थानीय समुदाय के साथ काम करती है जिससे रोजगार सृजन के साथ ही अर्थव्यवस्था को भी लाभ होता है।

सीआईआई भारतीय कंपनियों के विदेशी निवेश पर लगातार नजर रखता है और उनके निवेश का संबंधित देशों की अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभावों का भी अध्ययन करता है। सीआईआई ने अमेरिका, चीन, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और जर्मनी में भारतीय कंपनियों के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का सर्वेक्षण भी किया है।

अधिकांश भारतीय कंपनियां आईटी, फार्मा, विनिर्माण, ऑटोमोबाइल, वित्तीय सेवाओं और कारोबारी सेवाओं के साथ ही दूसरे क्षेत्रों में भी निवेश करती हैं। सीआईआई के हाल के सर्वेक्षण में शामिल कंपनियों में से 44 फीसदी ने वर्ष 2018 में अपना विदेशी निवेश बढ़ाने की बात कही है।