इंग्लैंड के खिलाफ विजयी शुरूआत करने को तैयार भारतीय क्रिकेट टीम

इंग्लैंड के खिलाफ विजयी शुरूआत करने को तैयार भारतीय क्रिकेट टीम
इंग्लैंड के खिलाफ विजयी शुरूआत करने को तैयार भारतीय क्रिकेट टीम

मैनचेस्टर । भारतीय क्रिकेट टीम विराट कोहली की अगुवाई में मंगलवार को पहले ट्वंटी 20 मैच के साथ इंग्लैंड के चुनौतीपूर्ण और व्यस्त दौरे की शुरूआत करने उतरेगी जहां उसकी निगाहें जबरदस्त फार्म में चल रही मेजबान इंग्लिश टीम को पटरी से उतार दबाव में लाने पर होंगी।

भारत और इंग्लैंड के बीच तीन ट्वंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज़ का पहला मैच मंगलवार को मैनचेस्टर में खेला जाएगा जो दिन-रात्रि प्रारूप में होगा। इंडियन प्रीमियर लीग में खेलकर इंग्लैंड दौरे पर आये भारतीय खिलाड़ियों के लिये मुश्किल और लंबे दौरे से पूर्व आयरलैंड के खिलाफ दो ट्वंटी 20 मैच अच्छे अभ्यास की तरह रहे हैं जहां उसने 76 और 143 रन के बड़े अंतर से जीत दर्ज की है।

हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम की चुनौती बिल्कुल अलग रहने वाली है। वर्ष 2019 में आईसीसी विश्वकप की मेजबानी करने जा रही इंग्लिश टीम ने हाल ही में आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज़ में पहली बार 5-0 की क्लीन स्वीप हासिल की है अौर एकमात्र ट्वंटी 20 मैच भी जीता। अपने घरेलू मैदान पर इंग्लैंड इस समय पूरे आत्मविश्वास अौर लय के साथ खेल रही है जिसकी कोशिश मजबूत भारतीय टीम के खिलाफ भी इसी लय को बनाये रखना होगा।

भारतीय टीम के अधिकतर खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग ट्वंटी 20 टूर्नामेंट के लंबे सत्र में खेलकर इंग्लैंड दौरे पर पहुंचे हैं। हालांकि दौरे पर आये सभी खिलाड़ियों ने अपने अनिवार्य फिटनेस टेस्ट को पास किया है लेकिन इंग्लैंड की स्पिन पिचों पर उनकी फिटनेस और प्रदर्शन की अलग परीक्षा होगी।

सीरीज़ शुरू होने से पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाएं हाथ के अंगूठे में चोट लगने के कारण ट्वंटी-20 सीरीज से बाहर हो गए हैं जबकि ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुन्दर टखने में लगी चोट के कारण इंग्लैंड के खिलाफ ट्वंटी-20 और वनडे सीरीज दोनों से बाहर हो गए हैं। बुमराह की अनुपस्थिति में भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, हार्दिक पांड्या और सिद्दार्थ कौल जैसे तेज गेंदबाज टीम के पास मौजूद हैं।

चोटिल ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुन्दर सीमित ओवर सीरीज़ से पूरी तरह बाहर हैं और उनकी जगह क्रुणाल पांड्या और वनडे टीम में लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल लेंगे। दोनों इस समय भारत ए के साथ इंग्लैंड में खेल रहे हैं। वैसे टीम इंडिया के पास अच्छे विकल्प हैं और अंतिम-एकादश में कप्तान विराट और कोच रवि शास्त्री के लिये यह सिरदर्द भी साबित हो सकता है।

आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों में भारत ने अंतिम एकादश में काफी प्रयोग किये थे और सभी अच्छी फार्म में दिख रहे हैं। बल्लेबाजी क्रम में शिखर धवन, रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी और लंबे समय बाद वापसी कर रहे ऑलराउंडर सुरेश रैना अहम साबित हो सकते हैं। ओपनिंग में टीम को आक्रामक धवन से अच्छी शुरूआत की उम्मीद रहेगी जिन्होंने अाईपीएल में बेहतरीन पारियां खेलीं और अायरलैंड के खिलाफ पहले मैच में 45 गेंदों में 74 रन बनाये।

बल्लेबाज़ों में विराट के प्रदर्शन पर भी सबसे अधिक निगाहें रहेंगी जो दौरे से पूर्व फिटनेस समस्याओं के कारण अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट और इंग्लिश काउंटी दोनों ही नहीं खेल पाये थे। बतौर कप्तान भी विराट के लिये इंग्लैंड दौरे को काफी चुनौतीपूर्ण माना जा रही है और आयरलैंड के खिलाफ भी दो मैचों में शून्य और 9 रन ही बनाये और इंग्लैंड के खिलाफ उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

इसके अलावा अंबाटी रायुडू के फिटनेस टेस्ट में फेल होने के बाद उनकी जगह लिये गये रैना के लिये भी ट्वंटी 20 में अपनी पुरानी फार्म दिखाना अनिवार्य होगा ताकि वनडे के लिये अंतिम एकादश में भी वह अपना दावा कर सकें। रैना को निचले क्रम पर इंग्लैंड के मोइन अली और आदिल राशिद जैसे गेंदबाज़ों को संभालने के लिये अहम माना जा रहा है।

गेंदबाज़ों में चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल का प्रदर्शन भी मैच का परिणाम तय करने में अहम माना जा रहा है। कुलदीप ने आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों में सात विकेट निकाले थे जबकि हरियाणा के युजवेंद्र ने भी प्रभावित किया है। हालांकि कई बार युजवेंद्र विकेट लेने के साथ महंगे भी साबित होते हैं लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाज़ों को रोकने में उनकी भूमिका को अहम माना जा रहा है। वहीं तेज़ गेंदबाज़ों में बुमराह की अनुपस्थिति में उमेश यादव को अंतिम एकादश में मौका मिल सकता है जो आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे थे।

इयोन मोर्गन की कप्तानी वाली इंग्लैंड के पास जॉनी बेयरस्टो, जैक बॉल, एलेक्स हेल्स, मोइन अली, आदिल राशिद, जोस बटलर , शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ जो रूट और ऑलराउंडर डेविड विली अहम होंगे।