अंतिम ट्वंटी 20 में आयरलैंड का सफाया करने उतरेगी भारतीय टीम

अंतिम ट्वंटी 20 में आयरलैंड का सफाया करने उतरेगी भारतीय टीम
अंतिम ट्वंटी 20 में आयरलैंड का सफाया करने उतरेगी भारतीय टीम

डबलिन । दिग्गज खिलाड़ियों से सजी भारतीय टीम पहला मैच 76 रन से जीत जाने के बाद आयरलैंड का शुक्रवार को होने वाले दूसरे और अंतिम ट्वंटी 20 अंतराष्ट्रीय मैच में पूरी तरह सफाया करने के लक्ष्य के साथ उतरेगी।

भारत का इंग्लैंड के खिलाफ मुश्किल सीरीज शुरू होने से पहले यह आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच है। भारत को इंग्लैंड से पहला ट्वंटी 20 मैच तीन जुलाई को मैनचेस्टर में खेलना है। कप्तान विराट कोहली चाहेंगे कि उस सीरीज से पहले इस मैच में भी आयरलैंड का सफाया कर अपना मनोबल और मजबूत कर लिया जाए।

पहले मैच की जीत में विराट का शून्य पर आउट हो जाना इस दिग्गज बल्लेबाज के लिए अच्छी शुरुआत नहीं है क्योंकि उनका पिछला इंग्लैंड दौरा निराशाजनक रहा था। पहले मैच में विराट छठे नंबर पर उतरे थे जो उनका बल्लेबाजी क्रम नहीं है। उन्हें अपने नियमित तीसरे नंबर के बल्लेबाजी क्रम पर आना होगा ताकि वह ज्यादा रन बटोर सकें और मुश्किल सीरीज से पहले खुद को तैयार कर सकें।

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल तथा चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की दौरे में शानदार शुरुआत इस बात का संकेत है कि ये दोनों युवा कलाई के स्पिनर आगे चलकर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को परेशानी में डाल सकेंगे। कुलदीप ने चार और चहल ने तीन विकेट लेकर आयरलैंड की पारी को अच्छी स्थिति से तहस नहस कर दिया था।

ओपनरों रोहित शर्मा और शिखर धवन की अच्छी शुरुआत और फॉर्म भारत के लिए एक और अच्छा संकेत है। हालांकि रोहित पहले मैच में शतक बनाने से मात्र तीन रन से शतक से चूक गए थे लेकिन उन्होंने शिखर के साथ पहले विकेट के लिए 160 रन की साझेदारी की थी। भारत ने अपने 100 वें ट्वंटी 20 मैच में पांच विकेट पर 208 रन का विशाल स्कोर बनाया और मेजबान टीम को 20 ओवर में नौ विकेट पर 132 रन पर थाम कर आसान जीत हासिल की। भारत की 100 मैचों में यह 62 वीं जीत थी।

आयरलैंड की टीम दो विकेट पर 72 रन की अच्छी शुरुआत के बाद कुलदीप और चहल की फिरकी का सामना नहीं कर सकी। कुलदीप ने चार ओवर में 21 रन पर चार विकेट झटके जबकि चहल ने चार ओवर में 38 रन पर तीन विकेट लिए। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने चार ओवर में 19 रन पर दो विकेट लिए।

भारत की आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों में यह दूसरी जीत थी। भारत को ओपनरों रोहित और शिखर धवन ने 16 ओवर में 160 रन की जबरदस्त ओपनिंग साझेदारी दी। रोहित मात्र तीन रन के अंतर से अपना तीसरा ट्वंटी 20 शतक बनाने से चूक गए। रोहित 20 वें ओवर में भारत को 200 के पार पहुंचाने के बाद आउट हुए। रोहित ने 61 गेंदों पर 97 रन की पारी में आठ चौके और पांच छक्के लगाए।

शिखर ने 45 गेंदों पर 74 रन में पांच चौके और पांच छक्के उड़ाए। ओपनिंग जोड़ी के टूटने के भारत आखिरी चार ओवर में 48 रन जोड़ पाया और उसने एक के बाद एक विकेट गंवाए। सुरेश रैना 10, महेंद्र सिंह ने 11 और हार्दिक पांड्या ने नाबाद छह रन बनाये जबकि कप्तान विराट कोहली खाता खोले बिना आउट हुए। आयरलैंड की तरफ से तेज गेंदबाज पीटर चेज ने 35 रन देकर चार विकेट हासिल किये।

लक्ष्य का पीछा करते हुए आयरलैंड की तरफ से ओपनर जेम्स शैनन ने भारतीय गेंदबाजों के सामने सराहनीय प्रदर्शन करते हुए 35 गेंदों पर पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 60 रन बनाये। आयरलैंड ने दो विकेट पर 72 रन की अच्छी स्थिति के बाद 54 रन जोड़कर सात विकेट गंवाए और उसे 76 रन से हार का सामना करना पड़ा।

कुलदीप यादव को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। कुलदीप ने दौरे की शुरुआत में अपने मैच विजयी प्रदर्शन पर संतोष जताया और कहा कि इससे आगे के दौरे के लिए उनका मनोबल मजबूत होगा।