वायरल वीडियो में भाजपा नेत्री उषा ठाकुर अपनी ही पार्टी पर लगा रहीं वंशवाद का आरोप

    इंदौर। भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई की उपाध्यक्ष और इंदौर ग्रामीण की महू विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी उषा ठाकुर के सोशल मीडिया पर वायरल हो रहें एक कथित वीडियो में वे अपनी ही पार्टी द्वारा किए गए अन्याय और पार्टी में व्याप्त वंशवाद का आरोप लगाते हुए सुनाई दे रहीं हैं। इस वीडियो के चलते भाजपा में घमासान मच गया है।

    वायरल हो रहे कथित वीडियो में ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस में जो वंशवाद हैं वो अब भाजपा में भी व्याप्त हो गया है। वीडियों में वे पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पर अपने पुत्र को टिकट दिलाने का आरोप लगाते हुए यह कह रहीं हैं कि वे विधायक रहते इंदौर तीन के सभी बूथों तक सकारत्मक काम किया, लेकिन पार्टी ने उनके साथ अन्याय किया हैं।

    विधानसभा इंदौर-3 से वर्तमान विधायक ठाकुर का विधानसभा क्षेत्र इस बार बदलकर भाजपा आलाकमान ने उन्हें इंदौर ग्रामीण की महू विधानसभा सीट से कांग्रेस के अंतर सिंह दरबार के सामने चुनाव लड़ाने का निर्णय लिया है। महू से वर्तमान में कैलाश विजयवर्गीय विधायक हैं, जबकि ठाकुर के वर्तमान विधायकी क्षेत्र इंदौर-3 से भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र आकाश विजयवर्गीय भाजपा प्रत्याशी हैं।

    ठाकुर से वायरल हो रहें वीडियो के सम्बंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मैने महू विधानसभा क्षेत्र में 150 से ज्यादा कार्यकर्ताओ की बैठक ली हैं, जिसमे कार्यकर्ताओं में मेरा विधानसभा क्षेत्र बदले जाने का काफी विरोध का मुझे सामना करना पड़ रहा था।

    कार्यकर्ताओ को समझाने के लिए मुझे कहा क्या कहना पड़ा मुझे कुछ याद नही हैं। ठाकुर ने उनके द्वारा भाजपा पर वंशवाद और विजयवर्गीय पर अपने पुत्र को टिकट दिलाने के आरोपो पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।