इनेलो अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है : कृष्ण कुमार बेदी

INLD is fighting for survival: Krishna Kumar Bedi
INLD is fighting for survival: Krishna Kumar Bedi

चंडीगढ़ । हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने इंडियन नेशनल लोकदल(इनेलो) के वरिष्ठ नेता अभय चौटाला की हाल की बयानबाजी को उनकी बौखलाहट का परिचायक बताया और कहा कि इनेलो अस्तित्व की आखिरी लड़ाई लड़ रही है और वर्ष 2019 के बाद इसकी दुकान बंद हो जाएगी।

बेदी यहां एक पत्रकार वार्ता में कहा कि श्री चौटाला जिस तरह के बयान देते हैं यह उनकी सोच को दर्शाता है। जिस व्यक्ति की सोच और विचार जिस तरह के होते हैं वह दूसरों से वैसी ही उम्मीद करता है। नशे को लेकर इनेलो नेता के बयान पर उन्होंने कहा कि वह या तो अपने बयान में कही बात साबित करें अन्यथा पार्टी उन्हें अदालत में खसीटेगी।

उन्होंने दावा किया कि अभय चौटाला का अपना अस्तित्व खत्म हो चुका है। परिवार के लोग ही आज उन्हें नेता नहीं मानते। वह पहले अपने पारिवारिक मसले सुलझाएं फिर समाज की सोचें। उन्होंने कहा कि श्री चौटाला बाहर तो बयानबाजी करते हैं लेकिन विधानसभा से भाग जाते हैं।

बेदी ने कहा कि इनेलो ने एसवाईएल नहर खोदने का ऐलान किया था लेकिन लेकिन वहां ढाई हजार लोग भी जमा नहीं हुये। पंजाब से हरियाणा में आने वाले वाहनों को रोकने की भी बात कही थी लेकिन तब भी इनेलो की भीड़ नहीं जुट सकी। इनेलो का आज हर कार्यक्रम फ्लॉप हो रहा है। आज पार्टी के लोग ही पार्टी से विमुक्त हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ने किसानों को इतना लाभ दिया है जितना विपक्ष कल्पना भी नहीं कर सकता। इसलिये वह बौखलाहट में ऐसे बेहूदा बयान दे रहा है।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा को लेकर सवाल पर श्री बेदी ने कहा कि श्री हुड्डा एक सम्माननीय नेता है लेकिन समय की मार व्यक्ति को कहां ले आती है यह सबको पता है। कांग्रेस का केंद्रीय नेतृत्व श्री हुड्डा को किसी भी प्रकार की ताकत देने को तैयार नहीं है इसलिए वह दुविधा में हैं कि कांग्रेस में ही रहें या अलग दल बनायें। उन्होंने कहा कि राज्य की मौजूदा सरकार ने श्री हुड्डा के राज्य अर्थव्यवस्था में खोदे गये गड्ढे भरने का काम किया है।
सत्ता में आने पर लोगों के बिजली बिल आधे करने के श्री हुड्डा के बयान को लेकर उन्होंने कहा कि इसी सोच के कारण वह राज्य को कर्जाई बनाकर चले गए।