इंजीनियरिग और पॉलीटेक्निक कॉलेजों में रिक्त सीटों के लिए होगी संस्था स्तर की काउंसलिंग

Institute level counseling for vacant seats in engineering and polytechnic colleges
Institute level counseling for vacant seats in engineering and polytechnic colleges

भोपाल । इंजीनियरिंग और पॉलीटेक्निक कॉलेजों में केन्द्रीयकृत काउंसलिंग के बाद रिक्त रह गई सिटों के लिये संस्था स्तर की काउंसलिंग (सी.एल.सी.) का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 29 जुलाई से एक अगस्त तक होगा। इच्छुक संस्था में प्रवेश के लिए 2 अगस्त को सुबह 10.30 बजे उपस्थित होना होगा। प्रथम चरण की सीएलसी के बाद रिक्त रहने वाली सीटों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 3 से 5 अगस्त तक होगा। इच्छुक संस्था में प्रवेश 6 अगस्त को होगा। रिक्त सीटों के लिऐ फिर से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 7 से 9 अगस्त तक होगा तथा वांछित संस्था में प्रवेश के लिए 10 अगस्त को उपस्थित होना पड़ेगा। शेष सीटों के लिए रजिस्ट्रेशन 11 से 13 अगस्त तक होगा। प्रवेश के लिए संस्था में 14 अगस्त को उपस्थित होना होगा।

काउंसलिंग डिप्लोमा-इंजीनियरिंग, पीपीटी/नॉन पीपीटी/ अम्बेडकर-एकलव्य योजना में पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिये होगी। यह प्रदेश के सभी शासकीय, स्व-शासी, अनुदान प्राप्त, स्व-वित्तीय, निजी क्षेत्र के पॉलीटेक्नीक और इंजीनियरिंग कॉलेजों में संचालित पाठ्यक्रमों के लिये है।

प्रवेश का अवसर प्राप्त करने के लिये संस्था की काउंसलिंग हेतु पंजीयन करा चुके अभ्यर्थी, अधिकृत वेबसाइट पर संस्था/ब्रांच की उपलब्ध रिक्तियों का अवलोकन कर उपरोक्त दर्शायी गई तिथियों पर प्रवेश का अवसर प्राप्त करने के लिये इच्छुक संस्था में प्रात: 10.30 बजे से दोपहर 12.00 तक स्वयं उपस्थिति दर्ज करवाना आवश्यक है। तत्पश्चात मेरिट के अनुसार प्रवेश की कार्यवाही की जावेगी।

डिप्लोमा इंजीनियरिंग में प्रथमत: पीपीटी-2018 प्रवेश परीक्षा की मेरिट के आधार पर योग्यताक्रम में और इसके बाद स्थान रिक्त रहने पर अर्हकारी परीक्षा के प्राप्तांकों के योग्यताक्रम में मेरिट के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा।

डिप्लोमा (नान-पीपीटी) पाठ्यक्रमों में अर्हकारी परीक्षा के आधार पर प्रवेश की कार्यवाही की जायेगी। डॉ. बाबा साहब अम्बेडकर/एकलव्य योजना में डिप्लोमा पाठ्यक्रमों अर्हकारी परीक्षा के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। डिप्लोमा इंजीनियरिंग (पीपीटी)/नान-पीपीटी/अम्बेडकर-एकलव्य योजनान्तर्गत पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिये अभ्यर्थी को पृथक-पृथक पंजीयन करवाना होगा।