IPL 2018 : कोलकाता नाईट राइडर्स ने राजस्थान रॉयल्स को 25 रन से हराया

IPL 2018: Kolkata Knight Riders beat Rajasthan Royals by 25 runs
IPL 2018: Kolkata Knight Riders beat Rajasthan Royals by 25 runs

कोलकाता। कोलकाता नाईट राइडर्स ने अपने लेग स्पिनर पीयूष चावला और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत शानदार वापसी करते राजस्थान रॉयल्स को एलिमिनेटर में बुधवार को 25 रन से हराकर आईपीएल 11 के दूसरे क्वालीफायर में जगह बना ली जहां शुक्रवार को उसका मुकाबला सनराइजर्स हैदराबाद से इसी ईडन गार्डन मैदान में होगा।

ईडन गार्डन मैदान पर 56 हजार दर्शकों के बीच कोलकाता ने सात विकेट पर 169 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने के बाद राजस्थान को 20 ओवर में चार विकेट पर 144 रन पर रोक लिया। कोलकाता की टीम अब दूसरे क्वालीफायर में हैदराबाद से भिड़ेगी और इस क्वालीफायर की विजेता टीम 27 मई को मुंबई में होने वाले फाइनल में चेन्नई सुपरकिंग्स से खिताब के लिए मुकाबला करेगी।

राजस्थान ने एक विकेट पर 109 रन की मजबूत स्थिति के बाद मैच गंवा दिया। चावला ने 24 रन पर दो विकेट और यादव ने 18 रन पर एक विकेट लेकर राजस्थान को ऐसा बांधा कि वे अंत तक बाहर नहीं निकल पाए और टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

राजस्थान ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 5.1 ओवर में 47 रन की अच्छी शुरूआत की। इस दौरान अजिंक्या रहाणे डीआरएस लेने से पगबाधा से बच गए हालांकि अंपायर ने उन्हें पगबाधा करार दे दिया था। रहाणे ने राहुल त्रिपाठी के साथ राजस्थान के लिए ओपनिंग में 47 रन जोड़े। त्रिपाठी 13 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों की मदद से 20 रन बनाने के बाद लेग स्पिनर पीयूष चावला को रिटर्न कैच दे बैठे।

रहाणे ने फिर युवा बल्लेबाज संजू सैमसन के साथ राजस्थान की पारी को आगे बढ़ाना जारी रखा। जबरदस्त फॉर्म में चल रहे रहाणे ने कुछ बेहतरीन शॉट खेले जबकि सैमसन भी पीछे नहीं रहे और कोलकाता के गेंदबाजों के आगे डट गए। राजस्थान ने 10 ओवर में 87 रन बना लिए। दोनों के बीच 50 रन की साझेदारी 42 गेंदों में पूरी हो गई जिसमें सैमसन का योगदान 35 रन था। राजस्थान के 100 रन 12.3 ओवर में पूरे हुए।

सुनील नारायण ने 14 वें ओवर में पहली चार गेंद डॉट फेंकी लेकिन पांचवीं गेंद पर सैमसन ने छक्का जड़ दिया और इसके साथ ही ट्वंटी 20 मैचों में 3000 रन पूरे करने की उपलब्धि हासिल कर ली। राजस्थान के लिए यह साझेदारी मजबूत होती जा रही थी और कप्तान दिनेश कार्तिक ने चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप को आक्रमण पर लगाया जिन्होंने रहाणे को आउट कर कोलकाता को दूसरी सफलता दिला दी।

राजस्थान का दूसरा विकेट 109 के स्कोर पर गिरा। रहाणे ने 41 गेंदों पर 46 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया। 15 ओवर के बाद राजस्थान का स्कोर 111 रन था। सैमसन ने अपने 50 रन 37 गेंदों में चार चौकों और दो छक्कों की मदद से पूरे कर लिए लेकिन वह अर्धशतक पूरा करने के बाद चावला के इसी ओवर में गेंद को ऊंचा उछाल बैठे और सियर्स के हाथों कैच आउट हो गए। राजस्थान का तीसरा विकेट 126 के स्कोर पर गिरा।

राजस्थान ने स्टुअर्ट बिन्नी को मैदान में भेजने का ख़राब फैसला किया जो तीन गेंदें ख़राब करने के बाद कैच दे बैठे। बिन्नी का विकेट प्रसिद्ध कृष्णा ने लिया। राजस्थान की टीम चार विकेट पर 144 रन ही बना सकी। हेनरिक क्लासेन ने नाबाद 18 रन और कृष्णप्पा गौतम ने नाबाद नौ रन बनाए।

इससे पहले कप्तान दिनेश कार्तिक के 52 और आंद्रे रसेल के नाबाद 49 रनों की बदौलत कोलकाता नाईट राइडर्स ने सात विकेट पर 169 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। कार्तिक ने 38 गेंदों पर 52 रन में चार चौके और दो छक्के लगाए जबकि रसेल ने मात्र 25 गेंदों पर नाबाद 49 रन में तीन चौके और पांच छक्के उड़ाए।

कोलकाता ने अपने चार विकेट मात्र 51 रन पर गंवा दिए थे लेकिन कार्तिक के 52, शुभमन गिल के 28 और रसेल के 49 रन के दम पर कोलकाता ने लड़ने लायक स्कोर बना लिया। युवा बल्लेबाज गिल ने 17 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया।

कार्तिक ने गिल के साथ पांचवें विकेट के लिए 55 रन और रसेल के साथ छठे विकेट के लिए 29 रन जोड़े। रसेल ने फिर स्केंटलबरी सियर्स के साथ सातवें विकेट के लिए 29 रन जोड़ डाले। इस साझेदारी में सियर्स का योगदान सिर्फ दो रन था।

इससे पहले सुनील नारायण चार, रोबिन उथप्पा तीन, नीतीश राणा तीन और क्रिस लिन 18 रन बनाकर आउट हुए थे। कृष्णप्पा गौतम ने 15 रन पर दो विकेट, जोफ्रा आर्चर ने 33 रन पर दो विकेट, बेन लाफलिन ने 35 रन पर दो विकेट और श्रेयस गोपाल ने 34 रन पर एक विकेट लिया।