IPL 2018 : बुमराह ने डैथ ओवरों में मुंबई इंडियंस को रखा जिन्दा

IPL 2018 : Mumbai Indians beat Kings XI Punjab by 3 runs
IPL 2018 : Mumbai Indians beat Kings XI Punjab by 3 runs

मुंबई। यॉर्करमैन जसप्रीत बुमराह की डैथ ओवरों में करिश्माई गेंदबाजी के दम पर तीन बार के चैंपियन मुंबई इंडियंस ने बेहद रोमांचक मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को बुधवार को मात्र तीन रन से हराकर आईपीएल 11के प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिन्दा रखा।

पंजाब को ओपनर लोकेश राहुल की 94 रन की जबरदस्त पारी के बावजूद हार का सामना करना पड़ा। मुंबई ने आठ विकेट पर 186 रन बनाने के बाद पंजाब को पांच विकेट पर 183 रन पर रोककर उम्मीदें बनाये रखने वाली जीत हासिल कर ली। बुमराह ने चार मैचों में मात्र 15 रन देकर तीन विकेट हासिल किए और मुंबई की जीत के हीरो रहे।

मुंबई की 13 मैचों में यह छठी जीत है और उसके 12 अंक हो गए हैं जबकि पंजाब के 13 मैचों में सातवीं हार के बाद 12 अंक हैं। दोनों टीमों को अपना आखिरी मैच 20 मई को खेलना है। मुंबई का दिल्ली में दिल्ली डेयरडेविल्स से मुकाबला होना है जबकि पंजाब का पुणे में चेन्नई सुपरकिंग्स से सामना होगा।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब ने ओपनर क्रिस गेल का विकेट चौथे ओवर में 34 के स्कोर पर गंवाया। गेल ने 11 गेंदों पर 18 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया। मिशेल मैकक्लेनगन ने गेल को बेन कटिंग के हाथों कैच कराया। लेकिन इसके बाद जबरदस्त फॉर्म में चल रहे लोकेश राहुल ने आरोन फिंच के साथ रन गति बनाये रखते हुए पंजाब को मजबूत स्थिति की तरफ ले जाना शुरू कर दिया।

राहुल ने अपनी पारी के दौरान आईपीएल 11 में 600 रन कर लिए और इस टूर्नामेंट में यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह पहले बल्लेबाज बन गए। राहुल ने अपने 50 रन 36 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से पूरे कर लिए।

दोनों के बीच 100 रन की साझेदारी 72 गेंदों में पूरी हो गयी। राहुल ने 16 वें ओवर में मयंक मारकंडे पर लगातार दो छक्के जड़े और टीम का स्कोर 145 पहुंचा दिया लेकिन 17 वें ओवर की पहली गेंद पर फिंच को जसप्रीत बुमराह ने अपना शिकार बना लिया। फिंच का कैच हार्दिक पांड्या ने लपका। फिंच ने 35 गेंदों पर 46 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया।

राहुल और फिंच के बीच 111 रन की साझेदारी हुई। मैच रोमांचक फिनिश की तरफ बढ़ने लगा। मैच में ट्विस्ट बाकी था और बुमराह ने इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर मार्कस स्टोइनिस को चलता कर दिया। 17 ओवर की समाप्ति पर पंजाब का स्कोर तीन विकेट पर 149 रन हो गया। अब पंजाब को 18 गेंदों में 38 रन की जरूरत थी और पंजाब की उम्मीदों के लिए राहुल क्रीज पर डटे हुए थे।

राहुल ने 18 वें ओवर में बेन कटिंग की गेंदों पर लगातार तीन चौके मारे और 92 रन के निजी स्कोर पर पहुंच गए। इस ओवर में 15 रन बने। बुमराह ने 19 वें ओवर की तीसरी गेंद पर आउट कर मैच में नया रोमांच भर दिया। राहुल ने 60 गेंदों 94 रन में 10 चौके और तीन छक्के लगाए। पंजाब का तीसरा विकेट 167 के स्कोर पर गिरा। आखिरी ओवर में पंजाब के लिए 17 रन की स्थिति रह गई और उसे अंत में तीन रन से हार का सामना करना पड़ा।

इससे पहले कीरोन पोलार्ड के 50, क्रुणाल पांड्या के 32, सूर्यकुमार यादव के 27, ईशान किशन के 20 और मिशेल मैकक्लेनगन के 11 रन से मुंबई ने आठ विकेट पर 186 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। एविन लुइस नौ, कप्तान रोहित शर्मा छह और हार्दिक पांड्या नौ रन बनाकर आउट हुए।

पंजाब की तरफ से एंड्र्यू टाई ने चार ओवर में मात्र 16 रन देकर चार विकेट झटके जबकि कप्तान और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने तीन ओवर में 18 रन देकर दो विकेट लिए। अंकित राजपूत को 46 रन पर एक विकेट और मार्कस स्टोइनिस को 43 रन पर एक विकेट मिला।

मुंबई ने तीन ओवर में 37 रन की बेहतरीन शुरुआत के बाद 71 रन तक जाते जाते चार विकेट गंवा दिए थे। ओपनर सूर्य ने 15 गेंदों में तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 27 रन बनाये जबकि ईशान ने 12 गेंदों पर 20 रन में एक चौका और दो छक्के लगाए। कप्तान रोहित ने एक बार फिर निराश किया और 10 गेंदों में सिर्फ छह रन ही बना सके।

पोलार्ड ने ऐसी नाजुक स्थिति में जबरदस्त अर्धशतकीय पारी खेल कर मुंबई को कुछ हद तक संभाला। पोलार्ड ने क्रुणाल के साथ पांचवें विकेट के लिए 65 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। क्रुणाल ने 23 गेंदों पर 32 रन की पारी में एक चौका और दो छक्के लगाए।

पोलार्ड ने मात्र 23 गेंदों पर 50 रन की विस्फोटक पारी में पांच चौके और तीन छक्के उड़ाए। पोलार्ड का विकेट 16वें ओवर में 152 के स्कोर पर गिरा। मुंबई की पारी 186 रन पर रुकी जिसमें पांच वाइड सहित 11 अतिरिक्त रनों का भी योगदान रहा।