IPL 2018 : गौतम के कमाल से राजस्थान की मुंबई पर रोमांचक जीत

IPL 2018 : Rajasthan Royals beat Mumbai Indians by three wickets in a thrilling encounter

जयपुर। कृष्णा गौतम ने अपने जीवन की सबसे यादगार पारी खेलते मात्र 11 गेंदों पर नाबाद 33 रन ठोककर राजस्थान रॉयल्स को गत चैंपियन मुंबई इंडियंस के खिलाफ आईपीएल 11 में रविवार को दो गेंद शेष रहते तीन विकेट से अविश्वसनीय जीत दिला दी।

मुंबई ने 20 ओवर में सात विकेट पर 167 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान ने अपने छह विकेट 18 वें ओवर की पहली गेंद तक 125 रन पर गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद गौतम ने ऐसी जबरदस्त पारी खेली जिससे वह रातों रात भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के दिलो दिमाग पर छा गए।

राजस्थान ने 19.4 ओवर में सात विकेट पर 168 रन बनाए और छह मैचों में तीसरी जीत हासिल कर ली जबकि मुंबई को पांच मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा।

गौतम ने बेशकीमती पारी खेलते हुए 11 गेंदों में चार चौकों औऱ दो छक्कों की मदद से नाबाद 33 रन की मैच विजयी पारी खेली औऱ टीम के लिए विजयी छक्का मारा। राजस्थान को आखिरी दो ओवर में जीत के लिए 28 रन चाहिए थे। गौतम ने 19वें ओवर में जसप्रीत बुमराह की गेंदों पर 18 रन ठोक डाले। अब आखिरी ओवर में 10 रन चाहिए थे।

हार्दिक पांड्या की पहली गेंद पर जोफ्रा आर्चर आउट हो गए लेकिन अगली गेंद पर गौतम ने चौका मारा और तीसरी गेंद पर कोई रन नहीं लिया। उन्होंने चौथी गेंद पर छक्का मारकर जीत राजस्थान की झोली में डाल दी।

राजस्थान के लिए संजू सैमसन ने 52 औऱ बेन स्टोक्स ने 40 रन बनाए। जोफ्रा आर्चर अपने 22 रन पर तीन विकेट और आठ रन के लिए मैन ऑफ द मैच बने।

इससे पहले ओपनिंग में उतरे सूर्यकुमार यादव के 47 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से बने 72 और विकेटकीपर ईशान किशन के 42 गेंदों पर चार चौकों औऱ तीन छक्कों के सहारे बने 58 रन की बदौलत मुंबई ने सात विकेट पर 167 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया।

एविन लुइस के पहले ही ओवर में टीम के एक के स्कोर पर आउट होने के बाद सूर्यकुमार औऱ किशन ने दूसरे विकेट के लिए 129 रन जोड़े लेकिन बाकी बल्लेबाज इस साझेदारी को परवान नहीं चढ़ा पाए।

कीरोन पोलार्ड ने 20 गेंदों में एक चौके औऱ एक छक्के के सहारे 21 रन बनाये। कप्तान रोहित शर्मा खाता खोले बिना रन आउट हुए जबकि क्रुणाल पांड्या सात और हार्दिक पांड्या चार रन ही बना सके। मुंबई ने दो विकेट पर 135 रन के स्कोर से 23 रन जोड़कर पांच विकेट गंवाए।

जोफ्रा आर्चर 22 रन पर तीन विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे। धवल कुलकर्णी ने 32 रन पर दो विकेट और जयदेव उनादकट ने 31 रन पर एक विकेट लिया।