IPL 2018 : ऋषभ पंत के तूफानी शतक के बावजूद दिल्ली डेयरडेविल्स बाहर

IPL 2018 : Sunrisers Hyderabad beat Delhi Daredevils by 9 wickets
IPL 2018 : Sunrisers Hyderabad beat Delhi Daredevils by 9 wickets

नई दिल्ली। युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (नाबाद 128 रन) की सर्वश्रेष्ठ पारी के बावजूद दिल्ली डेयरडेविल्स सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल के करो या मरो के मुकाबले में गुरूवार को फिरोजशाह कोटला मैदान में नौ विकेट से हार कर टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

दिल्ली ने हालांकि 20 ओवर में पांच विकेट पर 187 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन दिल्ली के गेंदबाजों ने पंत की मेहनत पर पानी फेर दिया। हैदराबाद ने एक विकेट पर 191 रन बनाकर शान के साथ प्ले ऑफ में जगह बना ली।

हैदराबाद की 11 मैचों में यह नौवीं जीत है और उसके 18 अंक हो गए हैं। दिल्ली को 11 मैचों में आठवीं हार का सामना करना पड़ा और उसका आईपीएल 11 में सफर तीन मैच शेष रहते ही समाप्त हो गया।

टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ टीम मानी जा रही हैदराबाद ने लक्ष्य का पीछा करते हुए ओपनर एलेक्स हेल्स (14) को हालांकि 15 के स्कोर पर गंवाया लेकिन शिखर धवन(नाबाद 92) और कप्तान केन विलियम्सन(नाबाद 83) ने दूसरे विकेट के लिए मात्र 102 गेंदों में 176 रन की अविजित साझेदारी कर दिल्ली की उम्मीदों को चकनाचूर कर दिया।

शिखर ने अपने घरेलू मैदान में 50 गेंदों पर नौ चौकों और चार छक्कों की मदद से नाबाद 92 रन की पारी खेली जबकि जबरदस्त फॉर्म में चल रहे विलियम्सन ने 53 गेंदों में आठ चौकों और दो छक्कों के सहारे नाबाद 83 रन बनाकर हैदराबाद को प्लेऑफ में पहुंचा दिया।

दिल्ली की हालत देखकर दर्शकों ने 15 ओवर से पहले ही मैदान खाली करना शुरू कर दिया। पंत ने अपने जीवन की बेहतरीन पारी खेली लेकिन दिल्ली के गेंदबाजों ने टूर्नामेंट का अपने सबसे खराब प्रदर्शन कर घरेलू दर्शकों को निराश कर दिया।

इससे पहले पंत ने दिल्ली को तीन विकेट पर 43 रन की नाजुक स्थिति से उबारा और शानदार शतक जड़ा। उन्होंने अपने 100 रन 56 गेंदों में 13 चौकों और चार छक्कों की मदद से पूरे किए। उनके पहले 50 रन 36 गेंदों में जबकि अगले 50 रन उन्होंने मात्र 20 गेंदों में ठोक दिए। पंत ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी बनाया और 63 गेंदों में 15 चौकों और सात छक्कों की मदद से नाबाद 128 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

पंत ने अपनी शतकीय पारी के दौरान आईपीएल में अपने 1000 रन भी पूरे कर लिए। पंत का यह पहला आईपीएल शतक है और वह इस टूर्नामेंट में शतक बनाने वाले तीसरे बल्लेबाज बन गए। पंत का इससे पहले सर्वश्रेष्ठ स्कोर 116 रन था। पंत ने हर्षल पटेल (24) के साथ चौथे विकेट के लिए 55 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। उन्होंने फिर ग्लेन मैक्सवेल के साथ पांचवें विकेट के लिए 63 रन जोड़े जिसमें मैक्सवेल का योगदान मात्र नौ रन था।

दिल्ली का जहां 10 ओवर में स्कोर मात्र 52 रन था वहीं पंत के जबरदस्त प्रहारों से उसका स्कोर 20 ओवर की समाप्ति पर उसका स्कोर 187 रन पहुंच गया। दिल्ली ने आखिरी 10 ओवर में 135 रन ठोके। पंत ने भुवनेश्वर कुमार के पारी के अंतिम ओवर में 4, 4, 6, 6, 6 उड़ाते हुए 26 रन ठोके।

दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन 21 रन की ठोस शुरूआत के बाद उसने 22 रन के अंतराल में तीन विकेट गंवाए। पृथ्वी शॉ नौ, जेसन रॉय 11 और कप्तान श्रेयस अय्यर तीन रन बनाकर आउट हुए। लेफ्ट आर्म स्पिनर शाकिब अल हसन ने पारी के चौथे ओवर में लगातार दो गेंदों पर पृथ्वी और रॉय के विकेट ले लिए। पृथ्वी का कैच शिखर धवन ने लपका जबकि रॉय को विकेटकीपर श्रीवत्स गोस्वामी ने लपक लिया।

पृथ्वी ने 11 गेंदों में नौ रन बनाये जबकि रॉय ने 13 गेंदों में 11 रन बनाये। रॉय ने इस टूर्नामेंट में अपना आखिरी मैच गत 21 अप्रेल को खेला था लेकिन उनकी वापसी सुखद नहीं रही। दिल्ली अभी इन दो झटकों से संभाली नहीं थी कि फॉर्म में चल रहे कप्तान अय्यर पंत के साथ ग़लतफ़हमी में रन आउट हो गए।

दिल्ली के लिए चार मैचों में यह तीसरी बार था जब पंत रन आउट में शामिल रहे। पंत और अय्यर के बीच ग़लतफ़हमी में रन आउट होने का यह दूसरा मौका था और दोनों बार अय्यर को पवेलियन लौटना पड़ा। अय्यर तीन रन ही बना सके।

दिल्ली ने छह ओवर के पावर प्ले में 38 रन और 10 ओवर में मात्र 52 रन बनाये। मैदान पर उतरे हर्षल पटेल ने 11 वें ओवर में दिल्ली का पहला छक्का मारा और दिल्ली की रन गति में तेजी आयी। दूसरे छोर पर पंत अपने चिर परिचित में रन बटोरने में लगे रहे। पंत और पटेल की साझेदारी मजबूत होने लगी थी कि पटेल फिर पंत के साथ ग़लतफ़हमी के चलते रन आउट हो गए। पटेल ने 17 गेंदों में दो छक्कों की मदद से 24 रन बनाये और दिल्ली का चौथा विकेट 98 के स्कोर पर गिरा।

पंत ने दिल्ली की चुनौतीपूर्ण स्कोर की उम्मीदों को बनाये रखा और छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने अपना अर्धशतक 36 गेंदों में आठ चौकों और एक छक्के के सहारे पूरा किया और इस दौरान उन्होंने आईपीएल में अपने 1000 रन भी पूरे कर लिए।

दिल्ली का 16वें ओवर में स्कोर 120 रन पहुंचा। लेकिन 17.5 ओवर में उसके 150 रन पूरे हो गए। पंत ने चौका लगाकर शतक पूरा किया और आखिरी ओवर में भुवनेश्वर को तोड़ कर रख दिया। भुवनेश्वर के पहले दो ओवर में मात्र सात रन बने लेकिन अगले दो ओवर में वह 44 रन लुटा गए। भुवी ने चार ओवर में 51 रन, सिद्धार्थ कौल ने 48 और राशिद खान ने 35 रन लुटाए।