IPL 2018 : सनराइजर्स हैदराबाद ने राजस्थान रॉयल्स को 11 रन से हराया

जयपुर। कप्तान केन विलियम्सन की 63 रन की शानदार पारी के बाद फील्डरों के जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद ने राजस्थान रॉयल्स को रविवार को 11 रन से हराकर आईपीएल 11 की तालिका में फिर से चोटी का स्थान हासिल कर लिया।

हैदराबाद ने सात विकेट पर 151 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और राजस्थान की चुनौती को छह विकेट पर 140 रन पर रोक लिया। हैदराबाद की आठ मैचों में यह छठी जीत है और वह 12 अंकों के साथ तालिका में चोटी पर पहुंच गया। दूसरी तरफ राजस्थान को सात मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा।

हैदराबाद ने कप्तान केन विलियम्सन की 43 गेंदों पर सात चौकों और दो छक्कों से सजी 63 रन की पारी से सात विकेट पर 151 रन का स्कोर बनाया और उसका सफलतापूर्वक बचाव भी कर लिया। विलियम्सन के बाद ओपनर एलेक्स हेल्स ने 39 गेंदों में चार चौकों की मदद से 45 रन बनाये। मनीष पांडेय ने 16 और विकेटकीपर रिद्धिमान साहा ने 11 रन का योगदान दिया।

ओपनर शिखर धवन (6) का विकेट 17 रन के स्कोर पर गिरने के बाद विलियम्सन और हेल्स ने दूसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी की। हेल्स टीम के 109 और विलियम्सन 116 के स्कोर पर आउट हुए लेकिन इसके बाद के बल्लेबाज रन गति को तेज नहीं कर पाए और टीम 151 तक ही पहुंच सकी।

राजस्थान के गेंदबाजों ने अच्छी वापसी करते हुए हैदराबाद को थाम लिया। जोफ्रा आर्चर ने शानदार गेंदबाजी की और चार ओवर में मात्र 26 रन देकर तीन विकेट झटके। कृष्णप्पा गौतम ने 18 रन पर दो विकेट लिये। जयदेव उनादकट और ईश सोढी को एक एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान के कप्तान और ओपनर अजिंक्या रहाणे ने 53 गेंदों में पांच चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 65 रन की पारी खेली लेकिन टीम को जीत की मंजिल तक नहीं ले जा पाए। राजस्थान ने अंत में अपने लिए लक्ष्य बहुत बड़ा कर लिया था जो उसकी हार का कारण बना। राजस्तान को अंतिम ओवर में जीत के लिए 21 रन चाहिए थे लेकिन उसे 11 रन की हार मिली।

हैदराबाद की जीत का श्रेय पूरी तरह उसके गेंदबाजों और फील्डरों को जाता है जिन्होंने छोटे स्कोर के बावजूद शानदार प्रदर्शन किया। सिद्धार्थ कौल ने 23 रन पर दो विकेट, संदीप शर्मा ने चार ओवर में मात्र 15 रन देकर एक विकेट, बासिल थम्पी ने 26 रन पर एक विकेट, राशिद खान ने 31 रन पर एक विकेट और युसूफ पठान ने 14 रन पर एक विकेट लिया। हैदराबाद के फील्डरों ने सीमारेखा पर कई शर्तिया बॉउंड्री रोककर राजस्थान के लिए अंत में लक्ष्य बड़ा कर दिया।

रहाणे ने संजू सैमसन (40) के साथ दूसरे विकेट के लिए 59 रन जोड़े और तब लग रहा था कि राजस्थान को मैच जीतने में परेशानी नहीं होगी लेकिन विलियम्सन ने बेहतरीन कप्तानी दिखाई और गेंदबाजों को बदलकर राजस्थान पर दबाव बनाये रखा। विलियम्सन मैन ऑफ द मैच भी बने।

पठान ने इस आईपीएल का अपना पहला ओवर डाला और बेन स्टोक्स को शून्य पर बोल्ड कर हैदराबाद की जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया। राजस्थान की टीम 10 वें ओवर में एक विकेट पर 72 रन की मजबूत स्थिति से 140 रन तक ही पहुंच सकी। जोस बटलर ने 10 और महिपाल लोमरोर ने 11 रन बनाए।