आईपीएल में मैच खेलने को लेकर कोई रोक नहीं : विराट कोहली

IPL 2019: All Indian players will have responsibility to maintain fitness says Virat Kohli

बेंगलूरु। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने स्पष्ट कर दिया है कि आगामी विश्व कप के मद्देनजर भारतीय खिलाड़यों के आईपीएल में खेलने को लेकर किसी तरह की कोई रोक नहीं है।

आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम के कप्तान विराट ने यहां अपनी टीम के एक प्रचार कार्यक्रम में विश्व कप टीम में जगह बनाने के दावेदार भारतीय खिलाड़ियों के आईपीएल में खेले जाने को लेकर यह बात कही। उनसे यह पूछा गया था कि क्या आईपीएल टीमों को विश्व कप के दावेदार भारतीय खिलाड़ियों के वर्कलोड के प्रबंधन को लेकर कोई निर्देश दिए गए हैं।

विराट ने कहा कि आप किसी पर कोई रोक नहीं लगा सकते। यदि मैं 10, 12 या 15 मैच खेल सकता हूं तो इसका मतलब यह नहीं कि अन्य खिलाड़ी भी इतने मैच खेल सकता है। मेरा शरीर कह सकता है कि मुझे कितने मैच खेलने चाहिए और मुझे इसे लेकर स्मार्ट होने की जरूरत है।

किसी दूसरे खिलाड़ी का शरीर मुझसे ज्यादा सक्षम या कम हो सकता है। यह सब कुछ व्यक्ति पर निर्भर करता है। हर कोई विश्व कप खेलना चाहता है, इसलिए मुझे लगता है है कि लोग स्मार्ट होंगे क्योंकि आप ऐसे टूर्नामेंट से चूकना नहीं चाहोगे।

भारतीय कप्तान ने इस बात पर जोर दिया कि अपने वर्कलोड को संभालना हर खिलाड़ी की अपनी जिम्मेदारी है। विराट ने कहा कि जहां तक जिम्मेदारी की बात है तो सभी भारतीय खिलाड़ियों की आईपीएल के दौरान जिम्मेदारी रहेगी कि वे अपनी फिटनेस और अपने बोझ पर खुद नजर रखें। मेरा यह भी मानना है कि हर खिलाड़ी आईपीएल को एक ऐसे मौके के रूप में लेगा जहां से वह विश्व कप में सकारात्मक सोच के साथ जा सके।

विराट ने जहां यह खिलाड़ियों के ऊपर छोड़ दिया कि वे आईपीएल में खेलना चाहते हैं या विश्राम करना चाहते हैं, वहीं पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज और बेंगलुरु टीम के संयुक्त कोच आशीष नेहरा ने कहा कि आईपीएल विश्व कप से पहले एडवांटेज होगा और विश्व कप से पहले लम्बा विश्राम नुकसानदायक भी हो सकता है।

नेहरा ने कहा कि यदि कोई विराट को कहे कि आप आईपीएल नहीं खेल रहे हो और आप ताजा होकर विश्व कप के लिए आओ, लेकिन मुझे नहीं लगता कि यह सही बात होगी। यदि वह केवल अभ्यास कर रहे हों तो आपको यह ध्यान रखना होगा कि अभ्यास किसी मैच से पूरी तरह अलग होता है।

आईपीएल एक दबाव वाला टूर्नामेंट है, इसमें अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धा है, यही वजह है कि हर कोई इसमें खेलना चाहता है। आप ऐसे दबाव से गुजरकर विश्व कप में जाना चाहोगे। यदि मैं गेंदबाज हूं तो मैं यॉर्कर या गुड लेंथ गेंदें डालूंगा और यही काम मुझे विश्व कप में करना है।

पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि आईपीएल फाइनल और विश्व कप में भारत के पहले मैच के बीच तीन सप्ताह का फासला है। यदि आप चोटिल नहीं होते हैं तो तीन सप्ताह आराम के लिए पर्याप्त हैं। यदि कोई मुझसे कहे कि आप आज आईपीएल फाइनल में गेंदबाजी करो और अगले तीन सप्ताह गेंदबाजी नहीं करो और फिर सीधे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गेंदबाजी करो तो मैं ऐसी स्थिति नहीं चाहूंगा। सक्रिय आराम बहुत महत्वपूर्ण है न केवल गेंदबाज के लिए बल्कि सभी के लिए।

नेहरा ने साथ ही सलाह दी कि जितना आप खेलोगे उतना बेहतर रहेगा। टीम के कोच गैरी कर्स्टन ने भी नेहरा की बात से सहमति जताते हुए कहा कि यदि आप आईपीएल के दौरान मैच फिट रहते हैं तो आप विश्व कप में भी बेहतर स्थिति में जा सकते हैं। आईपीएल विश्व कप की तैयारी के लिए शानदार टूर्नामेंट है।