IPL 2019 : राहुल-मयंक के अर्धशतकों से पंजाब की रोमांचक जीत

IPL 2019 : Kings XI Punjab beat Sunrisers Hyderabad by 6 wickets

मोहाली। ओपनर लोकेश राहुल (नाबाद 71) और मयंक अग्रवाल (55) के शानदार अर्धशतकों से किंग्स इलेवन पंजाब ने अपने मैदान में सनराइजर्स हैदराबाद को आईपीएल-12 में सोमवार को अंतिम ओवर तक चले रोमांचक मुकाबले में छह विकेट से हरा दिया।

हैदराबाद ने जबरदस्त फॉर्म में चल रहे ओपनर डेविड वार्नर (नाबाद 70) के एक और अर्धशतक से 20 ओवर में चार विकेट पर 150 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन पंजाब को रोकने के लिए यह स्कोर काफी नहीं था। राहुल और मयंक ने दूसरे विकेट के लिए 114 रन की मैच विजयी साझेदारी कर डाली। पंजाब ने 19.5ओवर में चार विकेट पर 151 रन बनाकर मैच जीत लिया।

पंजाब की छह मैचों में यह चौथी जीत है और वह आठ अंकों के साथ तालिका में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। दूसरी तरफ हैदराबाद को छह मैचों में तीसरी हार का सामना करना पड़ा।

राहुल ने 53 गेंदों पर सात चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 71 और मयंक ने 43 गेंदों पर तीन चौकों और तीन छक्कों की मदद से 55 रन बनाए। राहुल को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब को क्रिस गेल ने एक चौके और एक छक्के की मदद से 16 रन बनाकर 18 रन की अच्छी शुरुआत दी। गेल को अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान ने दीपक हुड्डा के हाथों कैच कराया।

गेल का विकेट गिरने के बाद ओपनर लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल ने जमकर खेलते हुए टीम के स्कोर को बढ़ाना जारी रखा। हैदराबाद के गेंदबाज दोनों बल्लेबाजों पर कोई प्रभाव नहीं छोड़ पा रहे थे और पंजाब के 50 रन आठवें ओवर में तथा 100 रन 13वें ओवर में पूरे हो गए।

राहुल ने अफगानिस्तान के ऑफ स्पिनर मोहम्मद नबी की गेंद पर चौका लगाकर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। 16वें ओवर में यूसुफ पठान ने अपने कप्तान भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर मयंक का बेहद आसान कैच टपका दिया। उस समय मयंक का स्कोर 40 और टीम का स्कोर 114 रन था। यह कैच टपकाना हैदराबाद को भारी पड़ गया क्योंकि इस विकेट से पंजाब की टीम दबाव में आ जाती।

राहुल ने इस ओवर की आखिरी गेंद पर दो रन लेकर साझेदारी के 100 रन पूरे कर दिए। मयंक ने इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए 17वें ओवर में सिद्धार्थ कौल की पहली गेंद पर सीधे छक्का मारा और फिर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया।

मयंक का आईपीएल में यह पांचवां अर्धशतक था। मयंक अर्धशतक पूरा करने के बाद संदीप शर्मा की गेंद पर विजय शंकर को कैच थमा बैठे। संदीप ने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर डेविड मिलर का विकेट भी ले लिया। मिलर एक रन ही बना सके।

पंजाब को अब आखिरी 12 गेंदों पर 16 रन की जरूरत थी। लेकिन सिद्धार्थ ने 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर मनदीप सिंह का विकेट लेकर मैच को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया। आखिरी ओवर में छह गेंदों पर 11 रन का आंकड़ा रह गया।

सैम करेन ने नबी की पहली दो गेंदों पर दो-दो रन ले लिए। तीसरी गेंद पर एक रन गया। राहुल ने चौथी गेंद पर सीधे चौका मार दिया और पांचवीं गेंद पर दो रन लेकर मैच समाप्त कर दिया। पंजाब की अपने घर में यह तीसरी जीत रही।

इससे पहले वार्नर ने 62 गेंदों पर नाबाद 70 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया। वार्नर के स्तर को देखते हुए यह पारी धीमी कही जा सकती है लेकिन पिच की मुश्किल परिस्थिति के मद्देनजर टीम के लिए यह काफी महत्वपूर्ण पारी रही। वार्नर अंत तक क्रीज पर जमे रहे और टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। वार्नर को टूर्नामेंट में यह चौथा फिफ्टी प्लस स्कोर रहा।

विजय शंकर ने 26, मोहम्मद नबी ने 12, मनीष पांडेय ने 19 और दीपक हुड्डा ने नाबाद 14 रन का योगदान दिया। हुड्डा ने मोहम्मद शमी के पारी के आखिरी ओवर की अंतिम दो गेंदों पर चौका और छक्का मारकर टीम का स्कोर 150 कर दिया। हुड्डा ने तीन गेंदों पर नाबाद 14 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया।

विजय शंकर ने 27 गेंदों पर 26 रन में दो चौके लगाए जबकि नबी ने सात गेंदों पर 12 रन और पांडेय ने 15 गेंदों पर 19 रन में दो चौके लगाए। जानी बेयरस्टो (1) का विकेट सात के स्कोर पर गिरने के बाद वार्नर ने विजय शंकर के साथ दूसरे विकेट के लिए 49 रन, नबी के साथ तीसरे विकेट के लिए 24 रन, पांडेय के साथ चौथे विकेट के लिए 55 रन और हुड्डा के साथ पांचवें विकेट की अविजित साझेदारी में 15 रन जोड़े। पंजाब की तरफ से मुजीब उर रहमान, मोहम्मद शमी और कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने क्रमशः 34, 30 और 30 रन देकर एक-एक विकेट लिया।