ipl 2019 : विश्व कप टीम के कप्तान विराट हारे, उपकप्तान रोहित जीते

IPL 2019 : Mumbai Indians beat Royal Challengers Bangalore by 5 wickets

मुंबई। तेज गेंदबाज लसित मलिंगा (31 रन पर चार विकेट) की शानदार गेंदबाजी के बाद ओपनर क्विंटन डी कॉक (40) और आलराउंडर हार्दिक पांड्या (नाबाद 37) के आतिशी प्रहारों से मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को आईपीएल-12 के मुकाबले में सोमवार को पांच विकेट से हरा दिया।

बेंगलूरु ने एबी डिविलियर्स (75) और मोईन अली (50) के शानदार अर्धशतकों से 20 ओवर में छह विकेट पर 171 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि मुंबई ने 19 ओवर में पांच विकेट पर 172 रन बनाकर मैच जीत लिया। बेंगलुरु को आठ मैचों में सातवीं हार का सामना करना पड़ा जबकि मुंबई आठ मैचों में पांचवीं जीत और 10 अंकों के साथ तालिका में तीसरे स्थान पर पहुंच गई।

मुंबई ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। डिविलियर्स और मोईन ने तीसरे विकेट के लिए 95 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। डिविलियर्स ने 51 गेंदों पर 75 रन में छह चौके और चार छक्के लगाए जबकि मोईन ने 32 गेंदों पर 50 रन में एक चौका और पांच छक्के उड़ाए।

डिविलियर्स आखिरी ओवर में कीरोन पोलार्ड के सीधे थ्रो पर रन आउट हुए। लसित मलिंगा ने इसी ओवर में अक्षदीप नाथ और पवन नेगी के विकेट लिए। दोनों के कैच विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक ने लपके। मलिंगा चार ओवर में 31 रन पर चार विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे। मलिंगा ने इससे पहले 18वें ओवर में मार्कस स्टॉयनिस और मोईन अली को आउट किया।

ओपनर पार्थिव पटेल ने 20 गेंदों पर 28 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया। विश्व कप टीम की घोषणा के दिन कप्तान विराट कोहली नौ गेंदों में आठ रन बनाकर आउट हो गए। विराट का विकेट जैसन बेहरनडोर्फ़ ने लिया। पटेल को हार्दिक पांड्या ने आउट किया।

मुंबई ने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करते हुए तूफानी शुरुआत की और छह ओवर के पॉवरप्ले में 67 रन ठोक डाले। इस साझेदारी में क्विंटन डी कॉक ज्यादा आक्रामक रहे और उन्होंने कुछ बेहतरीन चौके और छक्के लगाए। तेज शुरुआत के बाद मुंबई ने आठवें ओवर में अपने दोनों ओपनरों के विकेट गंवा दिए।

रोहित को ऑफ स्पिनर ऑफ स्पिनर मोईन अली ने बोल्ड किया। गेंद ऑफ स्टंप के बाहर पड़ने के बाद तेजी से अंदर आयी और स्टंप्स में घुस गयी। रोहित भी गेंद का टर्न देखकर हक्के-बक्के रह गए। मोईन ने तीन गेंद बाद डी कॉक को पगबाधा कर दिया। रोहित ने 19 गेंदों में दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 28 रन बनाये जबकि डी कॉक ने 26 गेंदों पर 40 रन में पांच चौके और दो छक्के लगाए।

युवा खिलाड़ी ईशान किशन ने आने के साथ तीन जबरदस्त छक्के लगाए। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने किशन को स्टंप करा दिया। किशन ने नौ गेंदों पर तीन छक्कों के सहारे 21 रन बनाये। चहल ने सूर्यकुमार यादव को नवदीप सैनी के हाथों कैच कराया। सूर्यकुमार ने 23 गेंदों पर 29 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया।

क्रुणाल पांड्या 21 गेंदों में सघर्षपूर्ण 11 रन बनाकर मोहम्मद सिराज की गेंद पर आउट हुए। मुंबई का पांचवां विकेट 148 के स्कोर पर गिरा। लेकिन हार्दिक पांड्या ने 19वें ओवर में लेफ्ट आर्म स्पिनर पवन नेगी की गेंदों पर छक्का, चौका,चौका और छक्का मारकर मैच समाप्त कर दिया। इस ओवर में 22 रन पड़े।

हार्दिक मात्र 16 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 37 रन बनाकर नाबाद रहे और उन्होंने विश्व कप टीम में अपना चयन जीत के जश्न के साथ मनाया। हैदराबाद की तरफ से मोईन और चहल को दो-दो विकेट मिले। मलिंगा मैन ऑफ द मैच बने।