IPL 2019 : सुपर ओवर में हैदराबाद को पस्त कर प्लेऑफ में पहुंची मुंबई

IPL 2019 : Mumbai Indians beat Sunrisers Hyderabad in super over to reach playoff

मुंबई। यॉर्करमैन जसप्रीत बुमराह के शानदार सुपर ओवर से मुंबई इंडियंस ने सनराइजर्स हैदराबाद को सांसों को रोक देने वाले बेहद रोमांचक मुकाबले में गुरूवार को हराकर आईपीएल-12 के प्लेऑफ में जगह बना ली। मुंबई इस तरह प्लेऑफ में पहुंचने वाली तीसरी टीम बन गई।

मुंबई ने ओपनर क्विंटन डी कॉक (नाबाद 69) के शानदार अर्धशतक से 20 ओवर में पांच विकेट पर 162 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि हैदराबाद ने मनीष पांडेय के नाबाद 71 रन से छह विकेट पर 162 रन बनाए। पांडेय ने आखिरी गेंद पर छक्का मारकर स्कोर बराबर कर दिया जिसके बाद मैच का फैसला सुपर ओवर में जाकर हुआ। यह इस टूर्नामेंट का दूसरा सुपर ओवर था।

मुंबई के लिए जसप्रीत बुमराह सुपर ओवर डाल रहे थे और पहली ही गेंद पर मनीष पांडेय दूसरा रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। दूसरी गेंद पर एक रन गया।तीसरी गेंद शार्ट थी और नबी ने बॉल को मिड विकेट के ऊपर से छक्के के लिए उड़ा दिया। चौथी गेंद पर नबी बोल्ड हो गए और इसके साथ ही हैदराबाद के कुल आठ रन बने।

हैदराबाद के लिए सुपर ओवर लेग स्पिनर राशिद खान डाल रहे थे और हार्दिक पांड्या ने पहली गेंद पर छक्का मार दिया और दूसरी गेंद पर एक रन ले लिया। तीसरी गेंद पर कीरोन पोलार्ड के दो रन लेने के साथ ही मुंबई प्लेऑफ में पहुंच गई।

मुंबई के प्लेऑफ में पहुंचने के बाद अब प्लेऑफ की चौथी टीम के लिए मुकाबला हैदराबाद, राजस्थान, कोलकाता और पंजाब के बीच रह गया है। चेन्नई और दिल्ली की टीमें पहले ही प्लेऑफ में पहुंच चुकी हैं।

मुंबई की पारी में डी कॉक ने 58 गेंदों पर नाबाद 69 रन में छह चौके और दो छक्के लगाए। कप्तान रोहित शर्मा ने 24, सूर्यकुमार यादव ने 23, हार्दिक पांड्या ने 18, कीरोन पोलार्ड ने 10 और क्रुणाल पांड्या ने नाबाद नौ रन का योगदान दिया।

रोहित ने 18 गेंदों की अपनी पारी में पांच चौके, सूर्यकुमार ने 17 गेंदों में तीन चौके और एक छक्का, हार्दिक ने 10 गेंदों में एक चौका और एक छक्का, पोलार्ड ने नौ गेंदों में एक छक्का और क्रुणाल ने तीन गेंदों में एक छक्का लगाया।

डी कॉक ने पहले विकेट के लिए रोहित के साथ 36 रन, सूर्यकुमार के साथ दूसरे विकेट के लिए 54 रन, हार्दिक के साथ चौथे विकेट के लिए 28 रन और पोलार्ड के साथ पांचवें विकेट के लिए 32 रन जोड़े।

हैदराबाद की तरफ से बाएं हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद 42 रन पर तीन विकेट लेकर सबसे सफल रहे जबकि भुवनेश्वर को 29 रन पर एक विकेट और मोहम्मद नबी को 24 रन पर एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करते हुए हैदराबाद को अपने दो विदेशी बल्लेबाजों ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर और इंग्लैंड के जानी बेयरस्टो की कमी काफी खली जो विश्व कप की तैयारी के लिए स्वदेश लौट चुके हैं। मनीष पांडेय एक छोर संभाले हुए स्कोर आगे बढ़ाते रहे लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरते रहे। हालांकि रिद्धिमान साहा और मार्टिन गुप्तिल ने टीम को 40 रन की अच्छी शुरुआत दी।

साहा 15 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 25 रन बनाकर आउट हुए जबकि गुप्तिल ने 11 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 15 रन बनाए। जसप्रीत बुमराह ने दोनों ओपनरों को पगबाधा किया। कप्तान केन विलियम्सन मात्र तीन रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

विलियम्सन को लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या ने आउट किया। क्रुणाल ने आलराउंडर विजय शंकर का विकेट भी झटका। विजय शंकर ने 17 गेंदों पर बिना किसी बॉउंड्री के 12 रन बनाये। हार्दिक पांड्या ने अभिषेक शर्मा को आउट किया। अभिषेक दो रन ही बना सके।

मनीष पांडेय का मोहम्मद नबी ने अच्छा साथ दिया और दोनों ने स्कोर को बढ़ाना जारी रखा। नबी ने 18वें ओवर में लसित मलिंगा की आखिरी गेंद पर छक्का मारकर हैदराबाद को मुकाबले में बनाये रखा। हैदराबाद को अब अंतिम दो ओवर में 29 रन चाहिए थे।

19वां ओवर बुमराह डाल रहे थे। उनकी पहली चार गेंदों पर चार सिंगल गए। लेकिन पांचवीं गेंद पर पांडेय ने चौका लगा दिया। छठी गेंद फुलटॉस थी और पांडेय ने इस पर भी चौका लगा दिया। हैदराबाद को आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रन चाहिए थे और गेंद हार्दिक पांड्या के हाथ में थी। पहली गेंद पर एक रन गया। दूसरी गेंद पर भी सिंगल गया।

तीसरी गेंद पर नबी ने छक्का मार दिया। अब तीन गेंदों पर हैदराबाद को नौ रन की जरूरत थी। लेकिन नबी ने चौथी गेंद पर कैच दे दिया। नबी ने 20 गेंदों पर 31 रन में दो चौके और दो छक्के लगाए।

पांचवीं गेंद पर दो रन गए और आखिरी गेंद पर हैदराबाद को सात रन चाहिए थे। पांडेय ने अंतिम गेंद पर छक्का मारकर स्कोर टाई कर दिया और मैच फैसले के लिए सुपर ओवर में चला गया। हैदराबाद ने छह विकेट पर 162 रन बनाए। पांडेय 47 गेंदों में आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 72 रन बनाकर नाबाद रहे।