IPL 2021 : चेन्नई सुपरकिंग्स चौथी बार बना चैंपियन

दुबई। सलामी बल्लेबाज फाफ डू प्लेसिस (86) के बेहतरीन अर्धशतक और रोबिन उथप्पा (31) तथा मोईन अली (नाबाद 37) की आतिशी पारियों से चेन्नई सुपरकिंग्स ने कोलकाता नाईट राइडर्स को शुक्रवार को 27 रन से पराजित कर चौथी बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।

चेन्नई ने फ़ाइनल में 20 ओवर में तीन विकेट पर 192 रन का मजबूत स्कोर बनाया और कोलकाता को 91 रन की शानदार सलामी साझेदारी के बावजूद नौ विकेट पर 165 रन पर रोक दिया। कोलकाता को इस तरह पहली बार फ़ाइनल में हार का सामना करना पड़ा । चेन्नई ने इससे पहले 2010, 2011 और 2018 में खिताब जीता था।

चेन्नई पिछले सत्र प्लेऑफ की रेस से बाहर होने वाली पहली टीम बनी थी लेकिन तब कप्तान धोनी ने इस साल वापसी का वादा किया था और उस वादे को उन्होंने पूरा कर दिखाया।

डू प्लेसिस ने पारी की शुरुआत में विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के स्टंपिंग चूकने से मिले जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए 59 गेंदों पर सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से 86 रन की बेहतरीन पारी खेली। डू प्लेसिस पारी के आखिरी ओवर में शिवम मावी की अंतिम गेंद पर आउट हुए। उन्होंने रुतुराज गायकवाड के साथ ओपनिंग साझेदारी में 61 रन जोड़े।

गायकवाड इस टूर्नामेंट में 635 रन बनाकर टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए गए हैं और उनके सर ऑरेंज कैप सज गई है। गायकवाड ने 27 गेंदों पर 32 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया।

उथप्पा ने गायकवाड के पवेलियन लौटने के बाद मात्र 15 गेंदों में तीन छक्के लगाते हुए 31 रन ठोके। उथप्पा रिवर्स स्वीप मारने की कोशिश में सुनील नारायण की गेंद पर पगबाधा हुए। डू प्लेसिस और उथप्पा ने दूसरे विकेट के लिए 63 रन की ताबड़तोड़ साझेदारी की।

उथप्पा के आउट होने के बाद डू प्लेसिस को अली के रूप में अच्छा जोड़ीदार मिला। अली ने मात्र 20 गेंदों पर नाबाद 37 रन में दो चौके और तीन छक्के लगाए। डू प्लेसिस और अली ने तीसरे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की और टीम को 192 के मजबूत स्कोर तक पहुंचाया।

कोलकाता की तरफ से नारायण चार ओवर में 26 रन पर दो विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे जबकि मावी को 32 रन पर एक विकेट मिला। लौकी फर्ग्युसन चार ओवर में 56 रन लुटाकर काफी महंगे साबित हुए।