IPL 2022 : डी कॉक का नाबाद शतक, प्लेऑफ में पहुंचा लखनऊ सुपर जायंट्स

मुंबई। क्विंटन डी कॉक (नाबाद 140) के शानदार शतक और उनकी कप्तान लोकेश राहुल (नाबाद 68) के साथ 210 रन की रिकॉर्ड अविजित साझेदारी तथा तेज गेंदबाज मोहसिन खान (20 रन पर चार विकेट) की घातक गेंदबाजी की बदौलत लखनऊ सुपर जायंट्स ने आखिरी गेंद तक खिंचे सांसों को रोक देने वाले बेहद रोमांचक मुकाबले में कोलकाता नाईट राइडर्स को बुधवार को मात्र दो रन से हराकर आईपीएल के प्लेऑफ में जगह बना ली। लखनऊ गुजरात के बाद प्लेऑफ में पहुंचने वाली दूसरी टीम बन गई है।

लखनऊ ने पिछले दो मुकाबलों की विफलता को पीछे छोड़ते हुए 20 ओवर में बिना कोई विकेट खोये 210 रन का विशाल स्कोर बनाया और कोलकाता की कड़ी चुनौती को 20 ओवर में आठ विकेट पर 208 रनों पर थाम लिया। लखनऊ की 14 मैचों में यह नौंवीं जीत रही और वह 18 अंकों के साथ तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है जबकि कोलकाता को 14 मैचों में आठवीं हार का सामना करना पड़ा और वह 12 अंकों पर ही रह गया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए डी कॉक ने 12 रन के निजी स्कोर पर मिले जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए शानदार शतक ठोक दिया। डी कॉक ने 70 गेंदों पर नाबाद 140 रन में 10 चौके और 10 छक्के उड़ाए। राहुल ने अर्धशतक बनाया और लगातार पांचवीं बार आईपीएल में 500 रन पूरे किये । राहुल ने 51 गेंदों पर 68 रन में तीन चौके और चार छक्के लगाए। दोनों बल्लेबाजों ने आखिरी पांच ओवर में 88 रन ठोके।

टी20 क्रिकेट में यह केवल चौथी बार हुआ है जब किसी टीम ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए कोई भी विकेट नहीं गंवाया है। आज के सलामी जोड़ीदारों को वर्षों तक याद रखा जाएगा। यह बल्लेबाज़ी करने के लिए मुश्किल विकेट है। हालांकि राहुल और डिकॉक ने एक मुश्किल विकेट को अपनी समझदारी से आसान बना दिया।आखिरी पांच ओवरों में उन्होंने कोलकाता के गेंदबाजों का धुंआ निकाल दिया।

कोलकाता के टिम साउदी चार ओवर में 57 रन लुटाकर सबसे महंगे साबित हुए। आंद्रे रसेल ने तीन ओवर में 45 रन लुटाए जबकि सुनील नारायण चार ओवर में 27 रन देकर सबसे सटीक रहे।

लक्ष्य का पीछा करते हुए कोलकाता ने कप्तान श्रेयस अय्यर के 50 रनों के बावजूद अपने पांच विकेट 142 रन तक गंवा दिए थे और जब आंद्रे रसेल 150 के स्कोर पर पवेलियन लौटे तो कोलकाता के लिए जैसे सब कुछ ख़त्म नजर आ रहा था लेकिन सुनील नारायण और रिंकू सिंह के इरादे कुछ और ही थे। दोनों ने जबरदस्त छक्के उड़ाते हुए मैच को रोमांचक बना दिया। आखिरी ओवर में कोलकाता को जीत के लिए 21 रन चाहिए थे।

आखिरी ओवर मार्कस स्टॉयनिस के हाथों में था। रिंकू ने पहली गेंद पर चौका और अगली दो गेंदों पर दो छक्के उड़ाकर लक्ष्य को नजदीक ला दिया। चौथी गेंद पर दो रन गए। अंतिम दो गेंदों पर कोलकाता को तीन रन चाहिए थे। रिंकू ने पांचवीं गेंद पर बड़ा शॉट खेला लेकिन एविन लुइस ने डीप प्वाइंट से भाग कर बाईं तरफ़ डाइव लगाई और एक हाथ से कैच पकड़ लिया।

इस कमाल के कैच ने रिंकू की कमाल की पारी का अंत कर दिया। रिंकू ने 15 गेंदों में दो चौकों और चार छक्कों की मदद से 40 रन बनाए। स्टॉयनिस ने पारी की आखिरी गेंद पर परफेक्ट यॉर्कर से उमेश यादव को बोल्ड कर दिया। नारायण सात गेंदों पर तीन छक्कों की मदद से 21 रन बनाकर नाबाद रहे। लखनऊ ने इसके साथ ही सांसों को रोक देने वाली रोमांचक जीत हासिल कर ली।