अंतिम वनडे में ऑयरलैंड ने विश्व चैंपियन इंग्लैंड को हराया

साउथम्पटन। कप्तान एंंडी बालबर्नी (113) और सलामी बल्लेबाज पॉल स्टार्लिंग (142) की शानदार शतकीय पारियों की बदौलत ऑयरलैंड ने विश्व चैंपियन इंग्लैंड को मंगलवार को सीरीज के तीसरे और अंतिम वनडे में सात विकेट से हराकर रोमांचक जीत हासिल की।

इंग्लैंड ने हालांकि तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। सीरीज के अंतिम वनडे में 329 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑयरलैंड के बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी की और इंग्लैंड के गेंदबाजों को कोई मौका न देते हुए 49.5 ओवर में तीन विकेट खोकर विजयी लक्ष्य हासिल कर लिया। मैच अंतिम ओवर तक काफी राेमांचकारी रहा।

सलामी बल्लेबाज स्टार्लिंग ने 142 रनों की अपनी तूफानी एवं मैच विजयी पारी में नौ शानदार चौके और छह छक्के उड़ाए। कप्तान बालबर्नी ने भी उनका बखूबी साथ दिया और 113 रनों की अपनी सधी हुई पारी में 12 बेहतरीन चौके लगाए। ऑयरलैंड के 50 रन के स्कोर पर डेलनी (12) के रूप में उसे पहला झटका लगा। लेकिन इसके बाद दोनों ही बल्लेबाजों ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया और संभल कर खेलते हुए टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया।

एक ओर से स्टार्लिंग ने तेजी से रन बटोरे जबकि कप्तान बालबर्नी ने दूसरा छोर संभालते हुए बेहतरीन पारी खेली। दूसरे विकेट के लिए स्टार्लिंग और बालबर्नी के बीच 214 रन की मैच विजयी साझेदारी हुई। इसके बाद हैरी टेक्टर और केविन ओब्रायन ने मैच के अंतिम ओवरों में क्रमश: 29 और 21 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाई।

इंग्लैंड की ओर से डेविड विली और आदिल राशिद को एक-एक विकेट मिला। विली ने डेलनी को बोल्ड आउट किया जबकि राशिद ने बालबर्नी को कैच आउट कराया। स्टार्लिंग को कुर्रन ने रन आउट किया।

इससे पहले कप्तान इयोन मोर्गन (106) के शानदार शतक और टॉम बेंटन (58) तथा डेविड विली (51) के अर्धशतकों की मदद से इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 49.5 ओवर में 328 रन का विशाल स्कोर बनाने के साथ ही ऑयरलैंड को जीत के लिए 329 रनों का कठिन लक्ष्य दिया था।

आयरलैंड ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करते हुए 44 रन तक इंग्लैंड के तीन विकेट गिरा दिए लेकिन मोर्गन ने इसके बाद कप्तानी की जिम्मेदारी भरी पारी खेली। मोर्गन ने मात्र 84 गेंदों में 15 चौके और चार छक्के उड़ाते हुए 106 रन ठोके। मोर्गन का 239वें वनडे में यह 14 वां शतक था।

मोर्गन ने बेंटन के साथ चौथे विकेट के लिए 146 रन की जबरदस्त साझेदारी कर इंग्लैंड को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। मोर्गन चौथे बल्लेबाज के रूप में 190 के स्कोर पर आउट हुए। बेंटन पांचवें बल्लेबाज के रूप में टीम के 202 के स्कोर पर आउट हुए। बेंटन ने 51 गेंदों पर 58 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया।

विली ने टॉम करेन के साथ आठवें विकेट के लिए 73 रन जोड़े। विली ने 42 गेंदों पर 51 रन में तीन चौके और तीन छक्के लगाए। करेन 54 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 38 रन बनाकर नाबाद रहे।

आयरलैंड की तरफ से क्रैग यंग ने 53 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि जोश लिटिल ने 62 रन पर दो विकेट और कर्टिस कैम्फर ने 68 रन पर दो विकेट लिए।