जबलपुर : धुंआधार से गिरी मां-बेटी बची, चचेरा भाई बहा

जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में नर्मदा नदी स्थित धुंआधार के व्यू पाइंट में सेल्फी लेते समय नदी में गिरी लड़की को बचाने के लिए उसकी मां और चचेरे भाई ने छलांग लगा दी। स्थानीय गोताखोर ने मां-बेटी की जान बचा ली, परंतु युवक तेज धार में बह गया।

बरगी के नगर पुलिस अधीक्षक दीपक मिश्रा ने बताया कि नागपुर निवासी रेवती तामने और उसकी बेटी शाइली विवाह समारोह में शामिल होने जबलपुर आई थीं। गढ़ा निवासी चचेरे भाई रोहन तामने (20) के साथ दोनों भेड़ाघाट घूमने पहुंची थीं।

दोपहर लगभग 12 बजे शाइली धुंआधार के व्यू पाइंट से सेल्फी ले रही थी, तभी मोबाइल फोन उसके हाथ से गिर गया, जिसे पकड़ने की कोशिश में वह गिर गई। उसे बचाने उसकी मां और चचेरा भाई भी नदी में कूद गए।

स्थानीय गोताखोर गुरु ठाकुर ने बड़ी मशक्कत कर मां-बेटी को बचा लिया, परंतु युवक तेज बहाव में बह गया, जिसकी तलाश जारी है। मां-बेटी को उपचार के लिए शासकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया है।