पश्चिम बंगाल में दंगाइयों का राज है : गजेन्द्र सिंह शेखावत

अजमेर। केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने पश्चिम बंगाल की बिगड़ी कानून व्यवस्था पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा है कि वहां दंगाइयों का राज है।

शेखावत ने आज अजमेर देहात भारतीय जनता पार्टी की वर्चुअल बैठक में कहा कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या और अत्याचार ढूंढ ढूंढकर किए जा रहे हैं। दीदी का मौन उनका अप्रत्यक्ष समर्थन है।

उन्होंने कहा कि बंगाल में हो रही राजनैतिक हिंसा ने बंगाल की स्थिति को भयावह बना रखा है। अब तक 26 भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है। बंगाल में 3500 गांवों के दस हजार से भी अधिक घरों पर हमला हुआ है जिसमें लगभग 50 हजार लोग प्रभावित हो चुके हैं। इस हिंसा के कारण दो हजार से भी अधिक लोगों को बंगाल छोड़ना पड़ा है।

इन्हीं परिस्थितियों के कारण आज 121 शरणार्थी कैंपों में अपने अपने घर-बार छोड़कर लगभग 3000 लोग रहने को मजबूर हैं जो बंगाल में लोकतंत्र के ह्वास और बंगाली नागरिकों के दिलों में बसी असुरक्षा को दर्शाता है। आज बंगाल में हिन्दू भाजपा कार्यकर्ताओं को ढूंढ-ढूंढ कर उनके साथ अत्याचार किया जा रहा है।

वर्तमान में लोकतंत्र के दमन के प्रयास हो रहे हैं जो असहनीय है और टीएमसी पर कालिख है। उन्होंने बंगाल के हालात असामान्य बताते हुए कहा कि इसके लिए देश की जनता ममता बनर्जी को कभी माफ नहीं करेगी।

बैठक में अजमेर देहात अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक देवीशंकर भूतड़ा ने कहा कि अजमेर सहित राजस्थान का एक एक भाजपा कार्यकर्ता बंगाल के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ है और हमेशा खड़ा रहेगा। बैठक में सांसद भागीरथ चौधरी, विधायक सुरेश रावत एवं रामस्वरूप लांबा, पूर्व जिला प्रमुख पुखराज पहाड़िया, भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश महामंत्री सरिता गैना, जिला मीडिया प्रभारी मोहित जैन, जिला आईटी प्रभारी प्रकाश रावत, सहित जिला पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि, मंडल अध्यक्ष सहित जिले में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।