30-35 हजार के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एक लाख में खरीदने पर केंद्रीय मंत्री ने कसा तंज

जयपुर। तीस-पैंतीस हजार रुपए के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एक लाख में खरीदने पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर तंज कसा है। शेखावत ने कहा कि गहलोत जी को अब “आपदा में भी भ्रष्टाचार कैसे करें” शीर्षक से किताब लिखनी चाहिए।

शुक्रवार को अपने बयान में शेखावत ने कहा कि कोरोना में जब जनता की जान संकट में थी, राजस्थान सरकार राजनीति में लगी थी कि कैसे मौके का फायदा उठाकर मोदीजी और केंद्र की छवि बिगाड़ी जाए।

उन्होंने कहा कि फिर गहलोत जी को मौका दिखा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की दलालों के जरिए खरीद से भी मुनाफा कमाया जा सकता है, इसलिए 30-35 हजार के कंसंट्रेटर एक लाख तक में खरीदे गए, जबकि पता था कि इन्हें कबाड़ में ही जाना है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं उन जागरूक विधायकों की सराहना करता हूं, जिन्होंने घटिया कंसंट्रेटर को सीधे ना कह दिया। जनता की सेवा के लिए दी जाने वाली राशि को भ्रष्टाचार की भेंट नहीं चढ़ाया जा सकता।

शेखावत ने कहा कि महामारी में भी जिसे मुनाफा दिखे, वो व्यक्ति वो सरकार उन विदेशी आक्रांताओं की तरह है, जिन्होंने भारत की भोली-भाली जनता को शासन के नाम पर लूटा।