भाजपा सेवा में जुटी रही और विपक्ष दोषारोपण में : गजेन्द्र सिंह शेखावत

उदयपुर। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि जहां एक ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार और संगठन ने कोरोना आपदा के दौरान आमजन की मदद की, वहीं विपक्ष केवल दोषारोपण में लगा रहा। राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के लिए शेखावत ने कहा कि अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए दूसरे पर दोष मढ़ना गहलोत सरकार का काम है।

रविवार को केंद्रीय मंत्री शेखावत ने उदयपुर संभाग के पत्रकारों से वर्चुअल बातचीत की। उन्होंने कहा कि जब कोरेना आपदा के समय सारी दुनिया डरी हुई थी, सुशुक्ता अवस्था में थी, तब देश की कई राजनीतिक पार्टियां नजर भी नहीं आ रही थीं, उस समय भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व से लगाकर बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं ने समाज के निचले स्तर तक सेवा के कार्य किए। उन्होंने कहा कि पहली बार अल्प समय में भारत ने अपनी वैक्सीन तैयार की। जरूरत के समय चंद दिनों में ऑक्सीजन का उत्पादन दोगुना कर दिया।

कांग्रेस अपने घर को देखे

राज्य के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के उस कथन पर की कांग्रेस का झगड़ा असली नहीं है, असली झगड़ा तो भाजपा में अगले मुख्यमंत्री के लिए है, के सवाल पर शेखावत ने कहा कि कांग्रेस से अपने नेता नहीं संभल रहे और वो दूसरों पर आरोप लगा रहे हैं। दो दिन पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और उनके वरिष्ठ मंत्री की नोकझोंक जगजाहिर है। कांग्रेस के विधायक अपने ही मंत्रियों पर उनके क्षेत्र में कार्य नहीं होने के आरोप लगा रहे हैं।

शेखावत ने कहा कि भाजपा के घर में किसी प्रकार की कोई लड़ाई नहीं है। यहां सभी एक परिवार की तरह हैं। मुख्यमंत्री के लिए भाजपा में कभी आपस में लड़ाई नहीं होगी, क्योंकि जो केंद्रीय नेतृत्व तय करता है, वही फाइनल होता है। उन्होंने कहा कि चेहरे और मोहरे की राजनीति भाजपा नहीं करती है।

यह कांग्रेस को मुबारक, वो अपने घर में जाकर देखे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राजस्थान की जनता के कष्टों और कांग्रेस सरकार की कमियों को उजाकर करना हमारा दायित्व है। राजस्थान में सांसद और चिकित्सकों पर हमले, महिला अत्याचार बढ़े हैं, ऐसे में कांग्रेस को शर्म से डुब जाना चाहिए।

वैक्सीन पर विपक्ष ने की राजनीति

केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कहा कि वैक्सीन को लेकर विपक्षी नेताओं ने खूब टीका-टिप्पणी की। देश के वैज्ञानिकों पर आंशका जताई। यहां तक कहा कि ये भाजपा की वैक्सीन है, हम नहीं लगवाएंगे। ऐसे अनगिनत आरोप विपक्ष ने लगाए, लेकिन आज यही विपक्ष वैकसीन के लिए त्राहीमाम कर रहा है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने व्यापक स्तर पर तैयारी नहीं की होती तो आज देश में कोरोना का विकराल रूप होता, क्योंकि राज्य सरकारों ने तो दोषारोपण के सिवाय कुछ कर किया। शेखावत ने कहा कि केरल जैसे राज्य में वैक्सीन खराब नहीं हुई और राजस्थान सरकार ने वैक्सीन की बर्बादी का काम किया।

राजस्थान में क्यों खराब हुए वेंटिलेटर

केंद्रीय मंत्री ने सवाल उठाया कि राजस्थान में वेंटिलेटर कबाड़ में पड़े मिले, जबकि केंद्र सरकार द्वारा वही वेंटिलेटर दूसरे राज्यों में भी उपलब्ध करवाए थे, बाकी राज्यों में ये वेंटिलेटर कार्य कर रहे हैं। शेखावत ने कहा कि चिकित्सा राज्य सरकार का विषय है, लेकिन राज्य सरकार पिछले एक साल से सो रही थी। केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन प्लांट के लिए राशि उपलब्ध कराई, उसके बावजूद राज्य सरकार ने ऑक्सीजन प्लांट नहीं लगाए।

सभी कार्यकर्ताओं का आभार

शेखावत ने कहा कि भाजपा युवा मोर्चा द्वारा नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की प्रेरणा से उदयपुर संभाग में सबसे अधिक रक्तदान हुआ। कटारिया के आग्रह पर सभी विधायकों ने अपना एक माह का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया। स्वयं कटारिया के नेतृत्व में कितने ही स्थानों पर भोजन बनवाकर संगठनों ने ऐसे परिवारों तक पहुंचाया, जिनके परिजन हॉस्पिटल में इलाज करा रहे थे।

भाजपा कार्यकर्ता लगातार अपनी जान की फिक्र किए बगैर जनता की सेवा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां के निर्देश पर जुटे हुए हैं। मैं सभी कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करता हूं।

उन्होंने कहा कि 7 दिन में जोधपुर में हमने ऐसा कोविड हॉस्पिटल खड़ा कर दिया, जिसमें ऑक्सीजन, दवाइयां, वेंटिलेटर समेत सब सुविधाएं उपलब्ध हैं। राजस्थान में कोरोना आपदा में जिन परिवारों ने अपने परिजन को खोया है, मैं और भाजपा परिवार उनके प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं। भाजपा परिवार इस दुःख की घड़ी में उनके साथ है।