लटकाना, अटकाना, भटकाना कांग्रेस का नारा : गजेन्द्र सिंह शेखावत

धर्मशाला। केन्‍द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्‍द्र सिंह शेखावत ने कहा कि लटकाना, अटकाना, भटकाना कांग्रेस का हमेशा से नारा रहा है। इसी तरह नए-नए सब्‍जबाग दिखाने का ढोंग राजस्‍थान में वर्ष 2018 के चुनाव में किया गया था। वहां न तो बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्‍ता मिला और किसानों का कर्ज माफ हुआ।

गुरुवार को यहां आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कांग्रेस के तत्‍कालीन अध्‍यक्ष राहुल गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि उन्‍होंने 1 से 10 तक की गिनती गिनते हुए राजस्थान में घोषणा की थी कि 10 दिन में किसानों का संपूर्ण कर्जा माफ कर दिया जाएगा। बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्‍ता दिया जाएगा, लेकिन आज भी राजस्‍थान का किसान कर्ज की वजह से आत्‍महत्‍या करने को मजबूर है।उसका कर्जा माफ नहीं हुआ है। आज वो अपने-आप को ठगा महसूस कर रहा है।

केन्‍द्रीय मंत्री ने कहा कि राजस्‍थान का किसान आज सबसे महंगी बिजली, डीजल और पेट्रोल खरीदने को मजबूर है और राजस्थान के मुखिया यहां आकर अपने राज्य के सुशासन की गवाही दे रहे हैं। जो राजस्‍थान आज कांग्रेस की सरकार के चलते देश की रेप कैपिटल बन गया है, वहां के मुखिया यहां आकर के कांग्रेस की सरकार के माध्‍यम से सुशासन देने का वादा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ओल्‍ड पेंशन को लेकर ऐसे ही सब्‍जबाग राजस्‍थान में भी दिखाए गए, लेकिन वहां एक भी व्‍यक्ति को अब तक लाभ नहीं मिला है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि यह कांग्रेस के खोखले चरित्र को दर्शाता है, क्‍योंकि कांग्रेस केवल घोषणाएं करती है, लेकिन घोषणाओं को धरातल पर उतारने के लिए कोई काम नहीं किया जाता है। शेखावत ने राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के हिमाचल आकर महंगाई और बेरोजगारी की दुहाई देने को भी हस्‍यापद बताया।

उन्‍होंने कहा कि देश में न केवल सबसे अधिक महंगा पेट्रोल और डीजल राजस्‍थान में है, बल्कि राजस्‍थान बेरोजगारी इंडेक्‍स में भी देश में शीर्ष पर है। यह न केवल कांग्रेस के खोखलेपन का प्रदर्शित करता है, बल्कि इससे अधिक हास्‍यापद और कुछ नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासित राजस्‍थान ही नहीं, बल्कि अन्‍य कांग्रेस शासित प्रदेशों में भी बहुत अधिक महंगाई और बेरोजगारी अधिक है।

केन्‍द्रीय मंत्री शेखावत ने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले आठ वर्षों के दौरान केन्‍द्र सरकार ने जिस तरह सामान्‍य लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने संबंधी योजनाओं का संचालन किया है, उससे देश में हर तरफ नई तरक्‍की देखने को मिल रही है।

जिस तरह हिमाचल में डबल इंजन की सरकार ने पिछले पांच वर्षों में लोगों की सेवा की है और विकास के लिए काम किया है, उससे जनता में जबरदस्‍त विश्वास पैदा हुआ है। यही वजह है कि हिमाचल की जनता एक बार फिर भाजपा सरकार बनाने के लिए आतुर दिखाई दे रही है। यही कारण है कि कांग्रेस के कार्यकर्ता, जो नेतृत्‍वविहीन अवस्‍था में चुनाव लड़ रहे हैं, वो अपने-आप को असहाय महसूस कर रहे हैं।

महंगाई के सवाल पर शेखावत ने कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से दुनिया में महंगाई जरूर बढ़ी है, लेकिन भारत में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में और हिमाचल की जयराम ठाकुर सरकार ने महंगाई को थामने में पूर्णतया सफलता हासिल की है।

हर घर नल से जल पहुंचाने के कार्य को लेकर भी केन्‍द्रीय जलशक्ति मंत्री ने मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर की जमकर सराहना की। उन्‍होंने कहा कि आज हिमाचल प्रदेश में 8 लाख 50 हजार से अधिक घरों को पीने का पानी नल के माध्‍यम से मिलने लगा है। राज्‍य में जल्द 100 प्रतिशत घरों में नल से जल मुहैया कराने के लक्ष्‍य को हासिल कर लिया जाएगा।

केन्‍द्रीय मंत्री ने बताया कि नाबार्ड के सहयोग ने हिमाचल सरकार ने 10 जिलों में 38 वाटर शेड परियोजनाओं का शुभारंभ किया है, जिसके माध्‍यम से 35 हजार हेक्‍टयेर भूमि सिंचित हो पाएगी और 78 हजार से ज्‍यादा किसानों का इसका लाभ होगा। प्रदेश के 237 से अधिक गांव और उस गांव में रहने वाले किसानों की आमदनी बढ़ने के साथ-साथ उनके जीवन परिवर्तन लाने का श्रेय इस परियोजना के माध्‍यम से मिला है।