जालौर के बरकत खां हत्याकांड का खुलासा, दम्पती अरेस्ट

जालौर। राजस्थान के जालोर में पुलिस ने बहुचर्चित बरकत खां अपहरण एवं हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए एक दम्पती को गिरफ्तार किया है।

जिला पुलिस अधीक्षक श्यामसिंह ने बुधवार को बताया कि पुलिस ने इस मामले में आरोपी दम्पती गलबा राम कलबी (40) एवं उसकी पत्नी हरिया देवी कलबी (35) निवासी खानपुर थाना भीनमाल, जिला जालौर को गिरफ्तार कर लिया है। प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमिका ने पति संग मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम देकर मृतक बरकत खां को अपने खेत मे जला दिया ओर जले अवशेषों को अपने कुएं में डाल कर अहमदाबाद भाग गए।

उन्होंने बताया कि 16 जुलाई को भीनमाल निवासी रज्जाक खां ने अपने चाचा बरकत खां का अपहरण हो जाने की रिपोर्ट दी। इस पर पुलिस टीम को सीसटीवी फुटेज, कॉल डिटेल, तकनीकी सहायता व गुप्त सूचना से पता चला कि घटना के दिन 15 जुलाई को बरकत ने अपनी टैक्सी में एक महिला एवं छोटे बच्चे को बैठाया था।

सीसीटीवी फुटेज में दिख रही महिला हरिया देवी के रूप में की जाकर उसके घर पर दबिश दी तो दोनों मियां-बीबी बच्चे सहित फरार मिले। दोनों के अहमदाबाद भागने की सूचना पर में थानाधिकारी दुली चन्द मय टीम के अहमदाबाद गए। जहां से दोनों को दस्तयाब कर थाना भीनमाल लाकर पूछताछ की गई।

पूछताछ में पता चला कि हरिया देवी का पीहर पावली गांव में है। जहां मृतक की आटा चक्की थी। आटा पिसवाने आने के दौरान दोनों के बीच प्रेम सम्बन्ध बन गए। बाद में गलबा राम को पता चलने पर उसने हरिया देवी के साथ मिलकर बरकत खां को मारने की योजना बनाई।

15 जुलाई को गलबा राम भीनमाल आया था जहां उसने बरकत खां की रैकी की। सुबह 10 बजे मृतक बरकत गैरेज में टैम्पों ठीक करवा रहा था। आरोपी ने पत्नी को कॉल कर भीनमाल बुलाया। हरिया देवी बरकत खां के पास गई और उसे खानपुर छोड़ने के लिए कहा। वे करीब 11 बजे वहां से निकले। पीछे-पीछे बाईक पर गलबा राम भी चल दिया। घर पहुंचते ही उसने बरकत खां को पीछे से पकड़ लिया एवं गला दबा कर हत्या कर दी।

इसके बाद गलबा राम ने बरकत का टैम्पों लेकर सरहद नरता गया। टैम्पों वहीं खड़ा कर बरकत का मोबाईल पास के खेतों में फेंक दिया ओर घर आ गया। उसके बाद आरोपी दम्पत्ति ने अपने खेत में ही लकड़ियों से शव को जला दिया। इसके बाद जले शव के अवशेष राख आदि अगले दिन अपने कुंए में डाल दिए ओर अहमदाबाद चले गए।

बाद पूछताछ दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों की निशानदेही पर कुंए से लाश के अवशेष, खेत से लाश के अवशेष तथा नरता के खेतों में से मृतक का मोबाईल बरामद किया गया।