जामुन खाने के ये फायदे आपको हैरानी में डाल देंगे

jamun
jamun ke fayde

गर्मी का मौसम चल रहा है और इस मौसम में जामुन की बाहर आई है। बाजार में जामुन खूब बिक रहा है। इस मौसम में जामुन खाना लोगों बहुत पसंद भी होता है ओर हो भी क्यों न क्योकि जामुन का सीजन साल भर में एक बार ही आता है । जामुन खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतने ही इसके औषधीय गुण भी होते हैं।जामुन का सेवन करने से आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है तथा आप हेल्दी रहते हैं। जामुन अम्लीय प्रकृति का फल है पर ये स्वाद में मीठा होता है। जामुन में भरपूर मात्रा में ग्लूकोज और फ्रुक्टोज पाया जाता है। जामुन का फल आकार में छोटा तथा दिखने में नीला, ब्लैक पल्म नाम से भी जाना जाता है जो स्वाद में बेहद स्वादिष्ट और गुणकारी है। ज्यादा पकने से इसका रंग काला भी नजर आने लगता है।

जामुन खाने के फायदे-

  • पिम्पल्स को ठीक करने के लिए दूध में जामुन की गुठली पीसकर पेस्ट बना लें और रात को चेहरे पर लगा लें। जब पेस्ट सूख जाए तो चेहरे को पानी से धों ले। मुंहासे कुछ ही दिनों में दूर हो जाते हैं।
  • काले जामुन का सेवन डायबटीज को ठीक करने में मदद करता है । इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर से बचाव में कारगर होते हैं।
  • जामुन में सेंधा नमक मिलाकर खाने से कब्ज के रोगी को फायदा मिलता है।
  • जामुन को खाने से शरीर का पाचन तंत्र ठीक रहता है।इसके निरंतर सेवन से खाना पचाने वाले तंत्र को सहायता मिलती है।
  • जिन लोगों को डायबिटीज है वो लोग भी इसका सेवन कर सकते हैं। जामुन को कभी भी खाली नहीं खाना चाहिए।
  • साथ इसके खाने से पथरी की रोकथाम में काफी मदद मिलती है।
  • जामुन में विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में होता है। विटामिन सी की कमी को दूर करने के लिए भी इसे खाना अच्छा माना जाता है।
  • जिन लोगों को भूख नहीं लगती हैं उन लोगों को जामुन का सिरका बनाकर पीने की सलाह दी जाती है। जामुन का सिरका पीने से कब्ज की शिकायत नहीं होती है।
  • जामुन को खाने से दस्त बंद हो जाते हैं। कहा जाता है कि जामुन को सेंधा नमक के साथ खाना फायदेमंद रहता है।
  • जामुन खाने से एसिडिटी की समस्या भी दूर होती है। भुने हुए जीरे को काले नमक के साथ पीस लें और इसका जामुन के साथ सेवन करें। ऐसा करने से एसिडिटी की समस्या दूर होती है। वहीं एनीमिया से पीडित लोगों को जामुन खाने की सलाह दी जाती है।
  • किसी भी काम करने से आपका शरीर में बहुत जल्दी थकावट आ जाती है तो एक कटोरी जामुन में एक चम्मच काला नमक मिलाकर खाने से बीमारी हमेशा के लिए दूर हो जाती है।
  • जामुन में काला नमक मिलाकर खाने से शारीरिक कमजोरी भी दूर हो जाती है और इसके साथ ही साथ शरीर का स्टैमिना भी बहुत बढ़ जाता है।
  • आपको खांसी बहुत आ रही है तो एक कटोरी जामुन में एक चम्मच काला नमक मिलाकर खाने से खांसी आना आपको बंद हो जाएगी और इसके साथ ही साथ अगर आपको सर्दी जुखाम है तो उसमे भी आपको बहुत आराम मिलेगा।
  • पथरी की रोकथाम में भी जामुन खाना फायदेमंद होता है। इसके बीज को बारीक पीसकर पानी या दही के साथ लेना चाहिए।
  • जामुन को सिरके में भिगोकर सुबह और शाम रोजाना खाने से पित्ती शांत हो जाती है।

जामुन खाने से जड़ से खत्म होने वाले रोग-

  • जामुन को खाने से शरीर की कमजोरी दूर होती है । जामुन को खाने से कमजोर लोगो में बेहतर पाचन होता है। हर रोज़ जामुन के साथ संतुलित भोजन खाने से शरीर की कमजोरी दूर हो जाती है ओर वजन तेजी से बढने लगता है और कोई भी बीमारी नहीं होती है और आप हमेशा स्वथ रहते हैं।
  • जामुन खाने से पेट के कीडों खत्म हो जाते है । एक हफ्ते तक जामुन खाने से पेट के कीड़े मर जाते है और इससे आप की पाचन प्रक्रिया अच्छे से काम करती है और आपको कोई भी बीमारी नहीं होती।

जामुन के साथ इन चीज़ो का सेवन नहीं करना चाइये –

  • जामुन खाने के तुरंत बाद आपको दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि आप जामुन खाने के तुरंत बाद दूध का सेवन करते हैं तो दूध अग्न्याशय में जामुन के साथ मिलकर एक जहरीली गैस का निर्माण करता है। जिससे आपको गैस और पेट संबंधित कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
  • जामुन खाने के तुरंत बाद अचार का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए। जामुन खाने के तुरंत बाद अचार का सेवन करने से आप कई गंभीर बीमारियों के शिकार हो सकते हैं।
  • ज्यादा मात्रा में जामुन खाने से हमारे फेफड़ों में कुछ परेशानियां हो सकती हैं तथा इससे खांसी जुकाम भी हो सकता है।
  • खाना खाने के पश्चात मुंह से बदबू आना अच्छी बात नहीं है इससे आपकी इमेज पर प्रभाव होता है। यह ऐसी समस्या है जो किसी भी आयु में हो सकती है, इस समस्या के निवारण हेतु जामुन के पत्तों अथवा तुलसी और पुदीना का सेवन करके अच्छा अनुभव ले सकते है।