पूरे देश के किसान मोदी सरकार से दुखी : दुष्यंत चौटाला

मथुरा/चंडीगढ़। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक स्व. देवीलाल तीन दशक पहले की राजनीतिक जुगलबंदी उनकी चौथी पीढ़ी में एक बार फिर देखने को मिली। देवीलाल के परपौत्र व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला मंगलवार को चरण सिंह द्वारा स्थापित राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी के लिए वोट मांगने उत्तर प्रदेश के मथुरा लोकसभा क्षेत्र में पहुंचे।

राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के साथ दुष्यंत चौटाला तीन दशक बाद राजनीतिक मंच साझा करते हुए पार्टी प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र सिंह के लिए वोट मांगे। नरेंद्र सिंह मथुरा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी हेमामालिनी के खिलाफ यूपी महागठबंधन के घटक राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी हैं।

दुष्यंत चौटाला ने जयंत चौधरी के साथ लोकसभा के बठै नकला, बठैन खुर्द, हुलवाना, कामर, लालपुर, दहगांव, उमराला आदि गांवों में सभाएं कर नरेंद्र सिंह के लिए प्रचार किया।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने सपा-बसपा समर्थित राष्ट्रीय लोकदल पार्टी के प्रत्याशी नरेंद्र सिंह को रिकार्ड मतों से विजयी बनाने की अपील करते हुए कहा कि भाजपा ने किसानों और युवाओं से बहुत-बड़े वादे किया थे।

किसानों को सुनहरे सपने दिखाकर उन्हें समृद्ध बनाने का वायदा किया था जिसके तहत स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों को लागू करना प्रमुख था। परन्तु सत्ता में आते ही भाजपा किसानों को पूरी तरह भूल गई और अंबानी और अडानी जैसे पंजूपीतियों की गोद में बैठ गई।

2014 में किसानों की आय दोगुनी करने की बात भाजपा ने कही थी और अब 2019 आया तो अब 2022 में आय दोगुनी करने की बात मोदी करने लगे हैं। आज डीएपी, यूरिया के सभी के दाम 400 रूपए प्रति बैग तक बढ़ गई परन्तु फसलों का न्यूनतम भाव भी किसानों को नहीं मिल रहा है।

इसी प्रकार युवाओं से रोजगार देने के वादे को पूरी तरह से मोदी सरकार ने भुला दिया और अब इसका कहीं जिक्र तक नहीं करती। उन्होंने कहा कि आप लोग अपने भविष्य के पांच वर्ष का फैसला अपने विवेक से करें और यदि दोबारा मोदी सत्ता में आए तो उत्तर प्रदेश में भी हरियाणा की तरह डीसी रेट पर पुलिस कर्मियों और कर्मचारियों की भर्तियां होंगी और तो और एमपी और एमएलए भी भविष्य में चुनाव से नहीं बल्कि डीसी रेट से भर्ती किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि यह वोटों की जंग लोकतत्र और किसानों को बचाने की है। उन्होंने कहा कि देश में राष्ट्रीय लोकदल और जननायक जनता पार्टी मिल कर देश भर के किसानों की लड़ाई लडऩे के लिए एक बार फिर साथ आए हैं। उन्होंने कहा कि चौधरी चरण सिंह व चौधरी देवीलाल ने मिलकर देश के किसानों को मजबूत बनाने और सशक्त बनाने के लिए काम किया था और एक बार फिर तीस बरस बात दोनों दल किसानों की लड़ाई लडऩे के लिए प्रतिबद्ध हैं।