भारतीय महिला बैडमिंटन टीम के सामने जापान टीम की चुनौती

 Japan team challenge in front of Indian women's badminton team
Japan team challenge in front of Indian women’s badminton team

जकार्ता । इंचियोन में पिछले एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय महिला टीम को 18वें एशियाई खेलों की बैडमिंटन प्रतियोगिता में मुश्किल ड्रा मिला है और उसका पहला मुकाबला जापान जैसी मजबूत टीम से होना है। महिला टीम के मुकाबले पुरूष टीम को शुरूआती राउंड आसान मिला है।

पिछले एशियाई खेलों की महिला टीम प्रतियोगिता में भारत और जापान दोनों ने कांस्य पदक जीता था जबकि चीन ने स्वर्ण और कोरिया ने रजत पदक जीता था। टीम प्रतियोगिता में बेस्ट ऑफ फाइव के मुकाबले होते हैं।

भारतीय महिला टीम को क्वार्टरफाइनल में जापान से 20 अगस्त को भिड़ना है। जापान की टीम में अकाने यामागूची और नोजोमी ओकुहारा के रूप में ऐसी दिग्गज खिलाड़ी शामिल हैं जिन्होंने भारतीय दिग्गजों पीवी सिंधू और सायना नेहवाल को पिछले दो वर्षाें में काफी परेशान किया है। यामागूची इस विश्व रैंकिंग में दूसरे और ओकुहारा आठवें स्थान पर हैं जबकि सिंधू तीसरे और सायना 10 वें स्थान पर हैं।

महिला टीम के मुकाबले पुरुष टीम की शुरुआती राह आसान है और उसे 19 अगस्त को राउंड 16 में मालदीव से भिड़ना है। किदाम्बी श्रीकांत और एच एस प्रणय वाली भारतीय टीम को यह मुकाबला जीतने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।

भारतीय पुरूष टीम में जहां 10 खिलाड़ी शामिल हैं वहीं मालदीव की टीम चार खिलाड़ियों के साथ उतरी है। भारतीय टीम को यह मुकाबला जीतने के बाद क्वार्टरफाइनल में इंडोनेशिया से भिड़ना पड़ेगा जिसे बाई मिली है। भारतीय पुरूष टीम को पिछले एशियाई खेलों में दक्षिण कोरिया से राउंड-16 में 0-3 से हार का सामना करना पड़ा था और वह क्वार्टरफाइनल में नहीं पहुंच पायी थी।