जापान के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति मिकिज़ो उएदा का 112 वर्ष की उम्र में निधन

टोक्यो। जापान के सबसे उम्रदराज पुरुष मिकिज़ो उएदा का हाल ही में नारा शहर में 112 वर्ष की आयु में निधन हो गया।

स्थानीय सरकार ने मंगलवार को यह जानकारी दी। नारा के सुपरसेंटेनेरियन निवासी का जन्म मई 1910 में हुआ था। नौ सितंबर को उएदा के निधन के बाद, स्वास्थ्य मंत्रालय इस सप्ताह देश के वर्तमान के सबसे बुजुर्ग जीवित व्यक्ति की घोषणा करने की तैयारियां कर रहा है।

जापान में दुनिया की सबसे अधिक जीवन प्रत्याशा है और यह कई उन लोगों का निवास रहा है जिन्हें अब तक के सबसे पुराने मनुष्यों में से एक माना जाता है।

केन तनाका, एक 119 वर्षीय जापानी महिला, जिसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा दुनिया के सबसे बुजुर्ग जीवित व्यक्ति के रूप में मान्यता दी गई है, का इस साल 19 अप्रैल को फुकुओका प्रान्त में निधन हो गया था। उसकी मृत्यु के साथ जापान में सबसे बुजुर्ग जीवित व्यक्ति अब ओसाका प्रान्त में रहने वाली 115 वर्षीय महिला फुसा तत्सुमी है।

जापान के ही जिरोमोन किमुरा, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा प्रमाणित सबसे लंबे समय तक जीवित रहने वाले व्यक्ति थे, जिनका जून 2013 में 116 वर्ष और 54 दिन की आयु में निधन हो गया था।