नालंदा में छात्र जदयू नेता की हत्या के मामले में पांच अरेस्ट

field from where Rakesh Kumar’s body was found

बिहारशरीफ। बिहार के नालंदा जिले में छात्र जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश महासचिव राकेश कुमार की हत्या के मामले में पुलिस ने मंगलवार को एक महिला समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरिका ने कहा कि नेता की हत्या के मामले में एक महिला सहित कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों में जिले के हरनौत थाना क्षेत्र के पटेल नगर के रहने वाले मनीष कुमार, खरूआरा गांव के दिवाकर कुमार और उसकी पत्नी पुष्पा देवी के अलावा चेरन गांव के सोनू कुमार और हसनपुर के गोरेलाल शामिल है।

पोरिका ने बताया कि मनीष कुमार और दिवाकर कुमार को पश्चिम बंगाल के डोंगरूच थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है जबकि अन्य की गिरफ्तारी हरनौत थाना क्षेत्र से की गई है। उन्होंने बताया कि पिछले 29 मई को नेता राकेश कुमार उर्फ टिंकू घर से लापता हो गया था जिसकी सूचना 30 मई को उसके परिजनों ने दी थी। परिजनों ने इस संबंध में मनीष कुमार, चंदन कुमार, दिवाकर कुमार के विरूद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि तीन जून को राकेश का मिट्टी में दबाकर रखा गया शव बरामद किया गया था। पुलिस ने इस मामले में राकेश के मोबाईल के सीडीआर खंगाला जिसके बाद इस कांड में दिवाकर कुमार, मनीष कुमार, गोरेलाल, सोनू कुमार, गुड़िया देवी, दीपक कुमार तथा परिवार के लोगों की संदिग्ध भूमिका का पता चला। गिरफ्तार दिवाकर ने पुलिस को जानकारी दी कि राकेश का पूर्व से अवैध संबंध उसकी साली के साथ था।

पोरिका ने बताया कि वहीं दूसरी ओर राकेश की नजर कुछ दिनों से दिवाकर की पुत्री पर भी थी और उसे उठाने की धमकी भी दी गई थी। राकेश पूर्व में अपनी साली को भी लेकर फरार हो चुका था। उन्होंने बताया कि इसी को लेकर दिवाकर ने साढु दीपक कुमार और उसकी पत्नी गुड़िया देवी के साथ मिल कर राकेश की हत्या की योजना बनाई थी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि योजना के अनुसार राकेश को उसके घर से मनीष, गोरेलाल और दिवाकर बुला कर ले गए तथा दीपक के डिहरा गांव स्थित घर में ले जाकर बेरहमी से उसकी हत्या कर दी गई। हत्या के बाद उसके सर को पत्थर से बुरी तरह कुचल दिया गया था। उन्होंने बताया कि इसके बाद अपराधियों ने शव को मिट्टी में दबा दिया। मृतक राकेश की मोटरसाईकिल को गरभूचक गांव के एक तालाब से बरामद किया गया है। पोरिका ने बताया कि इस घटना में शामिल अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।