प्रेम प्रकाश आश्रम में धूमधाम से मनाया झूलेलाल का चालीहो महोत्सव

jhulelal chaliha utsav celebrations in prem prakash ashram at Vaishali Nagar ajmer

अजमेर। सिन्धी समाज के अराध्य देव भगवान झूलेलाल का चालीहो महोत्सव शहर भर में उत्साह हर्ष के साथ मनाया जा रहा है। बुधवार को वैशाली नगर स्थित प्रेम प्रकाश आश्रम में चालीहा महोत्सव मनाया गया।

संत ओम प्रकाश ने भगवान झूलेलाल महोत्सव की पावन ज्योत प्रज्जवलित कर पूज्य बहराणे साहिब का शुभारम्भ किया। स्वामी अशोक गाफिल ने झूलेलाल भगवान की महिमा के पंजड़े, भजन आदि प्रस्तुत कर संगत को भाव विभोर किया। 108 दीपक प्रज्जवलित कर महाआरती की गई। इस अवसर पर शहर के कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कार्यक्रम के अंतर्गत सत्संग, पल्लव व प्रसाद वितरण भी हुआ। संत ओमप्रकाश ने भगवान झूलेलाल के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सिन्धियों के अराध्य देव भगवान झूलेलाल को जल देवता, वरूण देवता के नाम से भी जाना जाता है। सिन्ध में जब मिरख बादशाह ने धर्म परिवर्तन करने के लिए सिन्धियों पर अत्याचार किए तो लोगों ने वरूण देवता को बादशाह के अत्याचारों से मुक्ति हेतु प्रार्थना की, जिससे वहां वरूण देवता ने प्रकट हो कर उनकी रक्षा की। साथ ही भगवान झूलेलाल की जीवनी में से उनके स्वामी टेऊंराम जी महाराज के साथ काफी घनिष्ठ एवं मित्रवत् सम्बन्ध होने के बारे में भी हमें पता चलता है।

संत ओम प्रकाश ने बताया कि झूलेलाल चालीहा उत्सव के उपलक्ष्य में गुरुवार को इच्छापूर्ण झूलेलाल मन्दिर व घनश्याम भगत एण्ड पार्टी के पूज्य बहराणे साहिब का आयोजन स्वामी बसंतराम सेवा ट्रस्ट एवं सेवादारियों के साथ अजमेर के सिन्धी समाज के पदाधिकारियों के सहयोग से किया जाएगा। इस कार्यक्रम में शिक्षा व पंचायती राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी का अभिनन्दन किया जाएगा।

समारोह में ईश्वर मनोहर उदासीन आश्रम के महंत स्वरूपदास महाराज, निर्मलधाम के स्वामी आत्मदास महाराज, आदर्श नगर आश्रम के दादा नारायणदास, स्वामी शान्तनंद उदासीन के महंत हनुमानराम महाराज, दांदूराम दरबार से फतनदास, ईश्वर गोविन्द धाम से स्वामी ईसरदास, श्री राम विश्वधाम के स्वामी अजुर्नलाल एवं अन्य संत मण्डल भी शामिल होंगे।