अनासागर जेटी पर झूलेलाल चालीहो का समापन, मिला संतों का आशीर्वाद

अजमेर। सिन्धु समिति की ओर से इच्छापूर्ण झूलेलाल मन्दिर के सहयोग से आयोजित ईष्टदेव झूलेलाल चालीहो का रविवार को संतों के आशीर्वचन के साथ समापन हुआ।

महंत स्वरूपदास उदासीन ईश्वर मनोहर उदासीन आश्रम, स्वामी ईसरदास तुलसी धाम, स्वामी आत्मदास निर्मलधाम, दादा नारायणदाजी प्रेम प्रकाश आश्रम, भाई फतनदास जतोई दरबार, सांई अर्जुनराम श्री विश्वधाम दरबार, सांई अशोक कुमार बाबा खेमनाथ दरबार, सांई राधूराम सांई हाथीराम दरबार, महेश तेजवाणी सांई बाबा मन्दिर, भगत लालचन्द सांई मेठाराम दरबार, डाॅ. प्रीतम चांडवाणी सांई पुरसनाराम दरबार का सान्निध्य मिला।

इस मौके पर महंत स्वरूपदास उदासीन ने आशीर्वाद देते हुए कहा कि ईष्टदेव झूलेलाल ने धर्म की रक्षार्थ अवतार लिया और अपने धर्म को बचाने के लिए प्रेरणा दी। ऐसे आयोजनों से हम सभी को प्रेरणा लेकर अपने धर्म की रक्षा के संकल्पित होना है।

समापन समारोह के प्रारंभ में मशहूर कलाकार घनश्याम भगत ने आयो चालीहो झूलेलाल जो…, बेडीअ वारा अदारे मुहाणा…., लता ठारवाणी ने बेडी पार उतार लालण…., अलाहे जे छामे राजी आ….तथा लाल खूबचंदाणी, प्रकाश मोटवाणी, ललित भगत, सोनिया पंजवाणी ने भी पझंडे गाकर रंगारंग प्रस्तुतियां दी। बंटी एण्ड पार्टी की ओर से राधा कृष्ण की मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किए गए।

अध्यक्ष जयकिशन लख्याणी ने बताया कि 11 मन्दिरों से पवित्र ज्योत में नसरपुर झूलेलाल मन्दिर, इच्छापूर्ण झूलेलाल, झूलेलाल मन्दिर वैशाली नगर, सिन्धु भवन पंचशील नगर मन्दिर, झूलेलाल मन्दिर, नाका मदार झूलेलाल मन्दिर अजयनगर, साओ बहिराणो झूलेलाल मन्दिर, पूज्य उद्ेरोलाल मन्दिर, झूलेलाल मन्दिर यूआईटी काॅलोनी माकडवाली रोड, श्री झूलेलाल मन्दिर सिन्धुवाडी के मन्दिरों से बहिराणा मण्डली सम्मिलित हुई।

पूजन पण्डित रमेश शर्मा, बाली फेरवाणी व बाबा गागूमल ने करवाया। उत्सव में सामूहिक छेज, नृत्य, दीपदान महाआरती के साथ आम भण्डारे का भी आयोजन किया गया। मंच संचालन महेन्द्र कुमार तीर्थाणी ने किया स्वागत हरकिशन टेकचंदाणी व आभार नरेन्द्र बसराणी ने दिया।स्वागत करने वालों में समिति के अजीत पमनाणी दिलीप बूलचंदाणी, महेश टेकचंदाणी, किशन केवलाणी, महेश ईसराणी गोविन्द पारवाणी, माधव बच्चाणी घनश्याम चंदनाणी, बाली फेरवाणी, मोती टिलवाणी रहे।

समारोह में सिन्धी समाज महासमिति के अध्यक्ष कंवलप्रकाश किशनानी, अजमेर सिन्धी सेन्ट्रल महासमिति के महासचिव गिरधर तेजवाणी, वैशाली सिन्धी सेवा समिति के अध्यक्ष जीडी वृंदाणी, झूलेलाल मन्दिर वैशाली के अध्यक्ष प्रकाश जेठरा, सिन्धु भवन पंचशील के अध्यक्ष राधाकिशन आहूजा, मनोज मेंघाणी, मोहन चेलाणी, नाका मदार की पुष्पा साधवाणी, हरीश केवलरामाणी, जयप्रकाश मंघाणी, एमटी वाधवाणी, दीपक भम्भाणी, इन्द्र मूलाणी, मोहन तुलस्यिाणी, गुरूमुख बत्रा, रमेश प्रियाणी, वासुदेव मंघाणी सहित विभिन्न संगठनों के सेवाधारी उपस्थित थे।