दिवाली से पहले जियोफोन नेक्स्ट के फीचरों से उठा पर्दा

नई दिल्ली। दिवाली से पहले जियोफोन नेक्स्ट को लाँच करने की चल रही तैयारियों से पहले जियो ने सोमवार को ‘मेकिंग ऑफ जियोफोन नेक्स्ट’ फिल्म रिलीज की है। इस फोन को पहले गणेश चतुर्थी के दिन लॉँच करने की घोषणा की गई थी लेकिन इसके निर्माण के लिए कुछ महत्वपूर्ण कलपुर्जाें की आपूर्ति में देरी के कारण इसको उस समय टाल कर दिवाली से पहले लॉन्च करने की घोषणा की गई थी।

कंपनी ने इस वीडियो के माध्यम से जियोफोन नेक्स्ट के लॉन्च के पीछे के विज़न और आइडिया के बारे में बताया है। वैसे तो यह नया फोन भारत को ध्यान में रखकर बनाया गया है पर इसने अभी से ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोगों का ध्यान खींचना शुरू कर दिया है।

पांच साल में जियो ने भौगोलिक, आर्थिक और सामाजिक हर वर्ग के लोगों को छुआ है। देश में आज इसके 43 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता हैं। भारत के हर घर में डिजिटल कनेक्टिविटी पहुंचे, इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए रिलायंस जियो ने निर्णायक कदम उठाने की योजना बनाई और उसी ठोस पहल का नतीजा है जियोफोन नेक्स्ट।

इस वीडियो में बताया गया है कि जियोफोन नेक्स्ट एक मेड इन इंडिया, मेड फॉर इंडिया और मेड बाय इंडियंस फोन है। जियोफोन नेक्स्ट यह सुनिश्चित करेगा कि प्रत्येक भारतीय को समान अवसर मिले और डिजिटल तकनीक का लाभ प्राप्त हो। कंपनी ने वीडियो में बताया है कि कैसे जियोफोन नेक्स्ट लाखों भारतीयों के जीवन को बदलने को बदलने की ताकत रखता है।

जियोफोन नेक्स्ट प्रगति ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलेगा। यह गूगल एंड्रॉइड द्वारा बनाया गया एक विश्व स्तरीय ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे खास तौर पर भारत के लिए बनाया गया है। प्रगति ओएस को जियो और गूगल के सर्वश्रेष्ठ तकनीशियन्स ने तैयार किया है। और जैसा की नाम से ही जाहिर है इसका उद्देश्य किफायती कीमतों पर बेहतरीन एक्सपीरियंस के साथ सभी के लिए प्रगति सुनिश्चित करना है।

जियोफोन नेक्स्ट का प्रोसेसर भी क्वालकॉम ने विकसित किया है। जियोफोन नेक्स्ट में लगा क्वालकॉम प्रोसेसर, फोन के प्रदर्शन को बेहतर बनाने और इस प्रोसेसर से ऑप्टिमाइज्ड कनेक्टिविटी एंड लोकेशन टेक्नॉलोजी, ऑडियो और बैटरी के बेहतर इस्तेमाल को बढ़ाने में मदद मिलने का दावा किया गया है।

जियोफोन नेक्स्ट का फीचर नई प्रौद्योगिकी पर आधारित हैं। हालांकि कंपनी ने अभी फोन की कीमतों के बारे में खुलासा नही किया है पर उसके कुछ फीचर इस वीडियाे के माध्यम से जारी किये हैं। इसमें वॉयस असिस्टेंट हैं जो यूजरों को डिवाइस को ऑपरेट करने में मदद करता है (जैसे ऐप खोलें, सेटिंग्स को मैनेज करें आदि) साथ ही इंटरनेट से जानकारी/कंटेंट आसानी से उनकी अपनी भाषा में प्राप्त करने में सहायता करता है।

पढ़ें – सुनें यह उपयोगकर्ताओं को उस भाषा में बोलकर सामग्री का उपभोग करने की अनुमति देता है जिसे वे समझ सकते हैं। अनुवाद उपयोगकर्ता को अपनी पसंद की भाषा में किसी भी स्क्रीन का अनुवाद करने के योग्य बनाता है। यह उपयोगकर्ताओं को अपनी पसंद की भाषा में किसी भी सामग्री को पढ़ने में भी मदद करता है।

यह फोन स्मार्ट कैमरे से लैस है जिसमें पोर्ट्रेट मोड समेत विभिन्न फोटोग्राफी मोड हैं। उपयोगकर्ता चाहे तो अपने सब्जेक्ट को फोकस में रख कर उसके आस पास के बैकग्राउंड को ऑटोमोड में धुंधला कर सकता है इससे शानदार तस्वीरें कैप्चर होती हैं। नाइट मोड यूजरों को कम रोशनी में भी बेहतर तस्वीरें लेने की सुविधा देता है।

कैमरा ऐप इंडियन ऑग्मेंटिड रियलिटी फिल्टर के साथ प्री-लोडिड आता है। यानी कैमरे में बहुत से फिल्टर पहले से ही लोड हो कर आते हैं। जियो और गूगल ऐप्स प्रीलोडेड डिवाइस में सभी उपलब्ध एंड्रॉइड ऐप का उपयोग किया जा सकता है। जिसे गूगज प्ले स्टोर से डिवाइस में डाउनलोड किया जा सकता है।

जियोफोन नेक्स्ट ऑटोमेटिक सॉफ्टवेयर अपडेट के साथ अपडेट रहता है। इसके अनुभव समय के साथ बेहतर होते जाएंगे। यह इंटरनेट से जुड़ी परेशानियों से बचाने वाले सिक्योरिटी अपडेट के साथ भी आता है। बैटरी लाइफ नया डिज़ाइन किया गया प्रगति ओएस, जो एंड्रॉइड द्वारा संचालित है जो लंबी बैटरी लाइफ सुनिश्चित करते हुए बेहतर प्रदर्शन सुनिश्चित करता है।