भीलवाड़ा में पत्रकारों के आवास और पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए जार करेगी संघर्ष

भीलवाड़ा। जर्नलिस्टस एसोसिएशन ऑफ राजस्थान ‘जार’ की भीलवाड़ा इकाई की बुधवार को हुई बैठक में पत्रकाररें के लंबित मुद्दों पर गहन मंथन हुआ। मीटिंग में वरिष्ठ पत्रकारों ने पत्रकारों की मौजूदा समस्याओं पर विचार विमर्श किया और पत्रकारों में एकता कायम करने के लिए एक बड़ी मीटिंग शीघ्र बुलाने का निर्णय लिया।

बैठक में भीलवाड़ा के आवास से वंचित पत्रकारों को भूखंड आवंटन करवाने के लिए जार जिला ईकाई की तरफ से किए गए प्रयासों की जानकारी देते हुए बताया कि इस मुद्दे पर सभी पत्रकार साथियों को साथ लेकर संघर्ष किया जाएगा साथ ही पत्रकारों की सुरक्षा के लिए कानून बनाने, छोटे समाचार पत्रों को विज्ञापन कोटा बढ़ाकर मजबूत करने, मीडिया डिजिटल पालिसी लागू करवाने आदि पत्रकार मुद्दों पर चर्चा हुई और इन मुद्दों को सरकार व प्रशासन के समक्ष जोरदार तरीके से उठाने का निर्णय किया गया।

बैठक में भीलवाड़ा जार जिला ईकाई अध्यक्ष प्रकाश चपलोत ने मौजूद पत्रकारों को 13 व 14 मार्च 2021 को दौसा में आयोजित होने वाली नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्टस, इंडिया के राष्ट्रीय अधिवेशन की जानकारी देते हुए बताया कि इस अधिवेशन में भीलवाड़ा के पत्रकारों का प्रतिनिधित्व शामिल होगा।

मीटिंग में वरिष्ठ पत्रकार व जार के प्रदेश उपाध्यक्ष उपेंद्र शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार अशोक जैन, जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष शहजाद खान अतिथि के रूप में उपस्थित थे। बैठक में पत्रकार मुकेश राठी, राजेंद्र शर्मा, अनिल राठी, सुरेश डोरिया, जय कांत शक्तावत, देवेंद्र द्विवेदी, जयेश पारीक, अमित माहेश्वरी, जय कृत सिंह, अनिल मलिक आदि वरिष्ठ पत्रकारों ने भी अपने अपने सुझाव और राय प्रस्तुत की।