भिंड में ट्रक की टक्कर से पत्रकार की मौत, जांच एसआईटी को सौंपी

Journalist, who took on sand mafia, crushed to death by truck in MP
Journalist, who took on sand mafia, crushed to death by truck in MP

भिंड। मध्यप्रदेश के भिंड शहर में रेत माफिया और पुलिस के गठजोड़ का स्टिंग करने वाले पत्रकार संदीप शर्मा की सोमवार सुबह ट्रक की टक्कर से मौत हो गई। उनकी हत्या की भी आशंका जताई जा रही है। घटना की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया गया है।

नगर पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह तोमर ने बताया कि सड़क दुर्घटना में शर्मा की मौत हुई है। हादसा उस वक्त हुआ जब शर्मा शहर कोतवाली के पास से गुजर रहे थे। वारदात के बाद भाग रहे ट्रक को पकड़ लिया गया है, लेकिन चालक फरार हो गया। ट्रक चालक की तलाश की जा रही है।

घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आ गया है। इसमें साफ नजर आ रहा है कि ट्रक ड्राइवर ने किस तरह रांग साइड जाकर बाइक पर जा रहे संदीप को कुचला और फिर तेजी से भाग गया। शर्मा को डायल 100 से तुरंत अस्पताल ले जाया गया, लेकिन ट्रॉमा सेंटर में इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।

रेत माफिया और पुलिस के गठजोड़ के स्टिंग के बाद संदीप इस तरह के हादसे की आशंका पहले ही जता चुके थे। शर्मा अटेर के तत्कालीन अनुविभागीय पुलिस अधिकारी (एसडीओपी) इंद्रवीर भदौरिया का स्टिंग कर चर्चा में आए थे।

शर्मा के भांजे संदीप पुरोहित ने आरोप लगाया है कि सुबह जब मामा घर से बाइक से निकले थे, उसी समय ट्रक उनके पीछे लग गया था। उनकी मौत दुर्घटना में नहीं हुई, उन्हें मारा गया है।

पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे ने शर्मा की मौत की जांच के लिए एसआईटी गठित की है। उप पुलिस अधीक्षक राकेश छारी, मेहगांव के नगर निरीक्षक नरेंद्र त्रिपाठी, कोतवाली के नगर निरीक्षक शैलेन्द्र कुशवाह, उप निरीक्षक आशुतोष शर्मा, सहायक उप निरीक्षक सत्यवीर सिंह और साइबर सेल को एसआईटी में शामिल किया गया है। एसआईटी जांच कर एसपी को रिपोर्ट देगी।

भिंड के पड़ोसी जिले मुरैना के बामौर कस्बे में भी मार्च 2012 में भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी नरेंद्र कुमार की ट्रैक्टर ट्रॉली से कुचलकर हत्या कर दी गई थी। कुमार अवैध रूप से पत्थर ले जा रहे एक ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश कर रहे थे।