कांग्रेस को सत्ता से हटाने के लिए मिलकर टीम के रुप में करे काम : भाजपा

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान में एकजुटता के साथ अपने सभी नेताओं को कांग्रेस को सत्ता से हटाने के लिए मिलकर टीम के रूप में काम करने के लिए कहा है।

भाजपा की तीन दिवसीय राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक आज संपन्न हो गई और इसमें पार्टी नेताओं को प्रदेश में कांग्रेस की गहलोत सरकार को घेरने एवं उसकी विफलताओं को जनता के बीच ले जाने का काम दिया गया है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने नेताओं से कहा है कि राजस्थान में प्रदेश में तुष्टीकरण और हिंसा की घटनाओं को जनता के बीच उजागर करे तथा महिला, युवा, दलित, आदिवासियों की आवाज बनकर उनके मुद्दे उठाए और आंदोलन खड़ा करे।

नड्डा ने बैठक में चर्चा के दौरान कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार के शासन में अपराध तेजी से बढ़ा है और महिला और दलित अत्याचार, दुष्कर्म की घटनाएं तथा तुष्टिकरण, हिंसा, मॉब लिंचिंग के मामले लगातार सामने आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यह बात जनता के बीच लेकर जानी है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी कांग्रेस सरकार के संरक्षण में लगे हैं और दुष्कर्म पीड़िताओं की सुध लेने राजस्थान नहीं आते।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के मंत्री-विधायक और उनके परिवार के लोगों के खिलाफ मारपीट, दुष्कर्म जैसे गम्भीर मामले भी सामने आ रहे हैं। इन मुद्दों को भी राजस्थान सहित देशभर में उठाना है।

बैठक में यह भी कहा गया कि राजस्थान के आदिवासी बहुल क्षेत्रों में अपराध एवं अत्याचार बढ़ा है। राहुल गांधी द्वारा किसानों के लिए किया गया कर्जमाफी का वादा अब तक पूरा नहीं होने का मुद्दा भी लोगों के बीच लेकर जाना है।

बैठक में पिछले दिनों चार राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव पर चर्चा की गई और कहा गया कि इन चुनावों महिलाओं एवं युवाओं ने भाजपा को खूब वोट दिया है। इन चुनावों में पार्टी का केन्द्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों और उनके परिवारों ने साथ दिया है।

राजस्थान में देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी बताते हुए कहा गया कि बेरोजगारी भत्ते की स्कीम में भी राज्य सरकार ने वादाखिलाफी की है। इसके अलावा परीक्षाओं के पेपर भी सबसे ज्यादा राजस्थान में लीक हो रहे हैं। इससे युवाओं में राज्य सरकार के खिलाफ भारी आक्रोश है। प्रदेश में महिला अत्याचार, शोषण, दुष्कर्म और असुरक्षा का माहौल है। केन्द्र की योजनाएं भी ठीक से प्रदेश की जनता तक नहीं पहुंचने दी जा रही हैं। इन सब मुद्दों को लेकर लोगों में जागरूकता फैलानी है।

नड्डा ने पार्टी के बड़े नेता, सांसद, विधायक, कोर कमेटी सदस्यों को जनता के बीच प्रवास करने के लिए भी कहा है। उन्होंने कहा है कि केन्द्र की मोदी सरकार की योजनाओं का पूरा फायदा राजस्थान में लोगों तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार पर दबाव बनाया जाए। इसके लिए सभी पार्टी कार्यकर्ता पचहतर घंटे का अनिवार्य रूप से प्रवास करें। इसके अलावा 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर देशभर में 75 हजार जगहों पर पार्टी कार्यकर्ता योग शिविर लगाने एवं अन्य कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।