अब कुश्ती में भी दिखाया जाएगा रेड कार्ड

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय कुश्ती के नियमों में बदलाव लाया जा रहा है और अब कुश्ती मुकाबलों में निर्दयता का परिचय देने पर आकामक पहलवान को रेड कार्ड दिखाया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय कुश्ती की विश्व संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग ने अपनी पिछली कार्यकारी समिति की बैठक कुश्ती के कुछ नियमों में बदलाव किया है और ये बदलाव दो अप्रेल से लागू हो जाएगा।

नए बदलाव के अनुसार धारा 53 में मुक़ाबले के दौरान निर्दयता का परिचय देने पर आकामक पहलवान को रेड कार्ड दिखाया जाएगा। धारा 47 में ग्रीकोरोमन शैली की कुश्ती में पैसिविटी की समय सीमा को हटा दिया गया है। पार-तेरे पोजीशन के आदेश को एक राउंड में एक ही लागू किया जा सकता है।

नकारात्मक कुश्ती लड़ने पर फ्रीस्टाइल कुश्ती में विपक्षी को कॉशन के साथ एक अंक दिया जाएगा जबकि ग्रीको रोमन शैली की कुश्ती में ऐसी स्थिति में एक कॉशन के साथ दो अंक दिए जाएंगे।

धारा 49 में फ्रीस्टाइल शैली की कुश्ती में पकड़ से दूर भागने पर विपक्षी को कॉशन के साथ एक अंक दिया जाएगा जबकि ग्रीको रोमन कुश्तियों में ऐसी स्थिति के लिए कॉशन और दो अंक दिए जाएंगे।

धारा 50 में मैट से दूर भागने पर पकड़ वाला नियम ही लागू होगा। डेंजर पोज़ीशन की स्थिति में दोनों शैली की कुश्तियों में ऐसा करने पर कॉशन के साथ दो अंक दिए जाएंगे।

धारा 52 में ग्रीको रोमन शैली की कुश्ती में अगर आक्रामक पहलवान पैरों का फाउल करता है तो पहली ग़लती पर चेतावनी, दूसरी ग़लती पर कॉशन और एक अंक दिया जाएगा जबकि अगर ग्रीको रोमन शैली की कुश्ती में रक्षात्मक पहलवान यही ग़लती करता है तो पहली ग़लती पर चेतावनी और दूसरी ग़लती पर अयोग्य घोषित किया जाएगा।

धारा 8 में नॉर्डिक सिस्टम (राउंड रॉबिन) में रैंकिंग मापदंड को अपनाया जाएगा (यानी क्लासिफिकेशन पॉइंट्स अहम होंगे)। धारा 21 में रेफरियों के विचार-विमर्श के दौरान वीडियो की अनुमति नहीं होगी। वीडियो का इस्तेमाल केवल रेफरी के निर्णय को चुनौती देने के समय ही किया जा सकता है।