कमलनाथ ने विद्युत कटौती की शिकायतों पर ऊर्जा विभाग को दिया निर्देश

Kamal Nath instructions to power department on power cut complaints
Kamal Nath instructions to power department on power cut complaints

भोपाल । मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विद्युत कटौती की शिकायतों पर ऊर्जा विभाग को निर्देश दिया है कि वे प्रदेश में विद्युत उपलब्धता, वितरण और कटौती के बारे में पिछले एक माह की रिपोर्ट उन्हें दें और आम उपभोक्ताओं एवं कृषि कार्य के लिए नियमित बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा के मुताबिक कमलनाथ ने कहा है कि अगर कटौती हुई है तो उसके कारण भी बताएं। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि बिजली वितरण में लापरवाही सहन नहीं होगी, ज़िम्मेदार अधिकारियों की जवाबदारी सुनिश्चित की जाये।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विद्युत वितरण के संबंध में प्राप्त हो रही शिकायतों पर विभाग को सख्त हिदायत दी है। उन्होंने कहा कि कृषि कार्य के लिये किसानों को बिजली पर्याप्त उपलब्ध हो। मुख्यमंत्री ने बिजली कम्पनियों से इस बात का भी जवाब मांगा है कि जब बिजली सरप्लस में उपलब्ध है तब कटौती की शिकायतें क्यों आ रही हैं।

उन्होंने कहा कि इस बात का भी पता लगाया जाये कि चुनाव के समय ही कटौती की शिकायतें क्यों आ रही है और क्या इसके पीछे कोई साज़िश है। मुख्यमंत्री ने विभाग के मुख्य सचिव से कहा कि आम उपभोक्ताओं को 24 घंटे और कृषि कार्य के लिए 10 घंटे बिजली मिलना सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों और विधायकों को भी अपने-अपने क्षेत्रों में बिजली वितरण पर निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं।